मिर्गी के दौरे आते थे, युवती ने फांसी लगाई

श्रीगंगानगर, 15 दिसम्बर (नि.स.)। करीब 25 वर्ष की एक युवती ने बीती रात अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस युवती ने चार वर्ष पहले दूसरी जाति के युवक से शादी की थी। चूनावढ़ थाना क्षेत्र के गांव महियांवाली में बीती रात हुई इस घटना के सम्बंध में फिलहाल मर्ग रिपोर्ट दर्ज की गई है। आत्महत्या के कारणों की जांच शुरू कर दी गई है। पुलिस के मुताबिक महियांवाली निवासी सीताराम गोस्वामी ने वर्ष 2013 में अपने ही गांव की मनसुखी मेघवाल के साथ प्रेम विवाह किया था। इस दम्पत्ति के दो बगो हैं। कल रात सीताराम गांव के ही निवासी प्रवीन दहिया के खेत की पशुओं से रखवाली करने के लिए चला गया। करीब पौने 10 बजे सीताराम को उसके पिता धन्नाराम ने फोन कर बताया कि उसके बगो रो रहे हैं। बकौल पुलिस सीताराम, अपने पिता के मकान के पास ही अलग मकान में पत्नी-बगाों के साथ रह रहा है। कल रात जब बगाों के रोने की आवाज आई तो सीताराम की मां उसके घर गई। तब अंदर के कमरे में मनसुखी का शव फंदे पर लटक रहा था। पता चलते ही सीताराम तत्काल घर आ गया।इसके बाद मनसुखी के पीहर वालों को बताया गया। मनसुखी का भाई पंजाब में अपने ससुराल मेें गया हुआ था, जो आज सुबह वहां से गांव आया। इसके बाद घटना की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस के अनुसार- मनसुखी के पीहर-ससुराल वालों ने बताया है कि उसे मिर्गी के दौरे आते थे। इस बीमारी के कारण वह मानसिक रूप से परेशान रहती थी। प्रथम दृष्टया आत्महत्या का कारण भी यही बताया जा रहा है। सीताराम की ओर से दी गई रिपोर्ट के आधार पर सीआरपीसी की धारा 176 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। तहसीलदार सुरेंद्र पारीक की मौजूदगी में चूनावढ़ के सरकारी अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिवारजनों का सौंप दिया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *