राजस्थान के कोने-कोने की मिठाई-नमकीन के साथ उपलब्ध होंगे साबुत एवं पिसे मसाले-उद्योग आयुक्त

जयपुर, 15 फरवरी (का.सं.)। जयपुर के जलमहल के सामने स्थित राजस्थान अरबन हाट पर आगामी 14 मार्च से चार दिवसीय रसोई उत्सव आयोजित किया जाएगा। उद्योग आयुक्त डॉ. केके पाठक ने यह जानकारी देते हुए बताया कि रसोई उत्सव के आयोजन का मुख्य  प्रदेश केे कोने कोने के स्वाद का रसास्वादन कराना, शुद्ध साबुत एवं पिसे हुए मसालें और इससे जुड़ी वस्तुएं उपलब्ध कराना और रसोई से जुड़े परंपरागत, प्राकृतिक और आधुनिक उपकरण उपलब्ध कराना है। उद्योग आयुक्त डॉ. पाठक शुक्रवार को उद्योग भवन में रसोई उत्सव की तैयारियों व प्रदेश के विभिन्न अंचलों की प्रतिभागिता सुनिश्चित करने के लिए जिला उद्योग केन्द्रों के महाप्रबंधकों से रुबरु हो रहे थे। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा यह आयोजन रसोई-2019 – स्वाद राजस्थान के नाम से किया जा रहा है। उन्होंने रसोई उत्सव को बहुआयामी, बहुउपयोगी बनाने के लिए राजस्थान खाद्य व्यापार संघ सहित विभिन्न संघों के पदाधिकारियों से भी विचार विमर्श किया। डॉ. पाठक ने निर्देश दिए कि रसोई उत्सव मेंगुणवत्तापूर्णमसालेंं और अन्य उत्पाद ही प्रदर्शन व बिक्री के लिए लाए जाएं। उन्होंने कहा कि गुणवत्ता से किसी तरह का समझौता सहन नहीं होगा। उन्होंने कहा कि राजस्थान सांस्कृतिक विविधता का प्रदेश है और ऐसे में राजस्थान के अंचल विशेष के व्यंजनों को राज्य स्तर पर प्लेटफार्म उपलब्ध कराने के साथ ही आमनागरिकों से रुबरु कराना है। उन्होंने कहा कि राजस्थानी स्वाद का जयपुरवासियों औा पर्यैटकों को रसास्वादन कराने के साथ ही देश-दुनिया के सामने लाकर प्रमोट करने के प्रयास किए जाएंगे। राजस्थान उद्योग व्यापार संघ के अध्यक्ष बाबूलाल गुप्ता ने उद्योग विभाग के इस प्रयास की सराहना करते हुए राजस्थान की खान-पान की गौरवशाली परंपरा को आगे लाने, संरक्षण, संवद्र्धन और नई पीढ़ी को रुबरु कराने का अवसर भी मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि रसोई 2019 में सक्रिय सहभागिता निभायेंगे। बैठक में राजस्थान खाद्य पदार्थ व्यापार संघ के अध्यक्ष बाबू लाल गुप्ता, केमटेक के एमडी अजय गुप्ता, मसालों के निर्यातक श्याम धनी इंडस्ट्रीज के रामावतार अग्रवाल, दाल मिल एसोसिएशन के अध्यक्ष बाबूलाल गोयल, राम उद्योग के दिनेश अग्रवाल, ऑयल मिल संघ के श्याम एस बजाज आदि ने खाद्य सामग्री में मूल्य संवद्र्धन को बढावा दिलाने और उत्सव के दौरान विभिन्न आयोजनों का सुझाव दिया। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग में अतिरिक्त निदेशक डीसी गुप्ता, पीके जैन, संयुक्त निदेशक संजीव सक्सेना, एसएस शाह, महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र जयपुर शहर आरके आमेरिया, ग्रामीण सुभाष शर्मा, दौसा मती शिल्पी पुरोहित, उपनिदेशक केके पारीक, रवीश कुमार,सहायक निदेशक रविगुप्ता, जिला उद्योग अधिकारी त्रिलोक चंद, डीएन माथुर व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *