फेक आईडी बनाकर पहले दोस्ती, फिर मिलने के बहाने बुलाती और दोस्तों साथ मिलकर करती थी लूटपाट

जयपुर (कासं.)। सोशल मीडिया पर एक लड़की ने फेक आईडी बनाई। उस आईडी पर चैटिंग के बहाने युवकों को फंसाती थी। फिर मिलने बुलाती और उसके बाद मारपीट कर लूटपाट करती थी। गिरोह जयपुर में पकड़ा गया। गैंग में शामिल एक युवती और उसके दो साथियों को हरमाड़ा थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उनको रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। उनके कब्जे से लूटी गई नकदी और अन्य सामान भी बरामद कर लिया है। डीसीपी (पश्चिम) प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि जयपुर निवासी दीपक गोस्वामी ने 29 मार्च को हरमाड़ा थाने पहुंचकर एक रिपोर्ट दर्ज करवाई। इसमें बताया कि 28 मार्च को उसके मोबाइल फोन पर ब्लूड एप के जरिए नीतू शर्मा नाम की लड़की की आईडी से मैसेज आया। उसने रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली। तब दीपक और युवती के खिलाफ पूरे दिन चैटिंग हुई। इसमें युवती ने दीपक को फंसाकर उसे रोड नंबर 14, सीकर रोड पर मिलने के बहाने बुलाया। हरमाड़ा थानाप्रभारी चैनाराम बेड़ा ने बताया कि युवती की बातों में आकर वह 29 मार्च को सीकर रोड पर 14 नंबर पुलिया पहुंच गया। वहां एक लड़का मिला। उसने बताया कि नीतू उसकी मुंहबोली बहन है। वह उसे मिलने के लिए न्यू ट्रांसपोर्ट नगर बुला रही है। तब पीडि़त दीपक गोस्वामी को वहां ले गए। जहां एक लड़की मिली। उसने खुद को ज्योति कुमावत होना बताया। पीडि़त दीपक कुछ समझ पाता। इसके पहले ही ज्योति कुमावत ने आवाज देकर गैंग के साथी राहुल बैरवा व जूनियर कुमावत को बुलाया। वे दोनों लड़के लकडिय़ां लेकर आए। इसके बाद पहले ज्योति ने दीपक गोस्वामी को थप्पड़ मारा और कहा कि मोबाइल और पैसे निकाल। इसके बाद तीनों ने मिलकर दीपक से मारपीट शुरू कर दी, फिर उसके दो मोबाइल फोन तथा करीब 2 हजार रुपए जेब में से निकालकर छीन लिए और घटनास्थल से फरार हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *