तनुश्री विवाद पर बोलीं अदिति राव, अब वह डराएंगे-असुरक्षित महसूस करवाएंगे

अभिनेत्री तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर विवाद के बाद फिल्म इंडस्ट्री में हर समय हर जगह सिर्फ यही चर्चा हो रही है। इस मुद्दे पर बॉलिवुड में सितारे के तीन गुट बन गए हैं, कुछ लोग तनुश्री को खुल कर सपॉर्ट कर रहे हैं, कुछ नाना पाटेकर को ऐक्टिंग का भगवान् बताते हुए तनुश्री को गलत बता रहे हैं और कुछ लोग साफ कह रहे हैं कि वह तो कुछ जानते ही नहीं कि हुआ क्या है।
वह कुछ भी कर सकते हैं आपका मुंह बंद करने के लिए- अदिति राव हैदरी,अब समय आ गया है कि हम यौन शोषण जैसे मामले पर खुलकर बात करें। सच तो यह है कि इस मामले में बात करना बहुत मुश्किल होता है। आप देख सकते हैं, उनको (तनुश्री) 10 साल लगे अपनी बात कहने के लिए, बहुत हिम्मत की जरूरत होती है। क्योंकि आप जानते हैं, जैसे ही आप किसी का नाम लेकर अपनी बात कहेंगे, वह आपको बार-बार डराएंगे, नीचे गिराएंगे, आपको असुरक्षित महसूस करवाएंगे और वह कुछ भी कर सकते हैं आपका मुंह बंद करने के लिए। मैं सब लोगों से कहूंगी इस तरह की बातों को संवेदनशील होकर सुने और समझे। यह हमारे देश-दुनिया की सच्चाई है, लेकिन अब बदलाव का समय आ गया है। सबसे पहले हमें यह मानना होगा कि ऐसे (यौन शोषण) हो रहा है, होता है और इसके बाद इसका समाधान खोजना चाहिए, ताकि कोई भी व्यक्ति अपने पावर का इस्तेमाल गलत ढंग से न करे।
अपनी बात कहना इतना आसान काम नहीं है-विकी कौशल ने कहा, मेरी राय यह है कि किसी भी तरह असम्मान या यौन शोषण किसी भी जगह या काम करने की जगह पर होना गलत है। जब भी कोई अपने साथ हुए शोषण की बात करे तो हमें उनको ध्यान देकर गंभीरता से सुनना चाहिए। दुनिया के सामने इस तरह की बात कहना इतना आसान काम नहीं है। हमें दोनों पक्षों को सुनना चाहिए और इस पर इन्वेस्टिगेशन होना चाहिए।
तनुश्री दत्ता विवाद की मुझे कोई जानकारी नहीं है-दिशा पाटनी कहती हैं, ‘मैं कभी भी यौन शोषण का शिकार नहीं हूं। रही बात तनुश्री दत्ता वाले विवाद की तो इस बारे में मुझे कोई जानकारी नहीं है तो मैं क्या बात करूं। इंडस्ट्री में काम करने का मेरा निजी अनुभव भी बहुत अच्छा है, मेरे साथ लोग हमेशा बहुत अच्छे से ही पेश आए हैं।जब भी ऐसे मामले सामने आते हैं खूब चर्चा होती है, लेकिन निकलता कुछ और है-सोनाक्षी सिन्हा कहती हैं, मेरे ख्याल से इस मुद्दे पर जितना कम कहा जाए उतना अच्छा है क्योंकि दोनों पक्षों की कहानियां होती हैं। जब भी ऐसे मामले सामने आते हैं मीडिया और हमारे बीच खूब चर्चा होती है, लेकिन निकलता कुछ और है। दोनों पक्षों की पूरी जानकारी न हो तो हमें बात नहीं करना चाहिए। यह बात भी है कि अगर कोई महिला काम करने की जगह पर सुरक्षित महसूस नहीं करती तो यह हर तरह से गलत है। काम करने की जगह पर किसी भी महिला का असुरक्षित महसूस नहीं होना चाहिए।
क्या है पूरा मामला-10 साल पहले फिल्म हॉर्न ओके प्लीज के सेट पर एक गाने की शूटिंग के दौरान तनुश्री ने अभिनेता नाना पाटेकर पर गलत ढंग से छूने और बदतमीजी करने का आरोप लगाया था। इस घटना के बाद यह खबर करीब एक हफ्ते तक खूब सुर्खियों में रही, लेकिन बाद में मामला शांत हो गया और तनुश्री फिल्म इंडस्ट्री छोड़ अमेरिका में सेटल हो गई थीं। पिछले दिनों भारत लौटीं तनुश्री से प्तद्वद्गह्लशश अभियान के तहद सवाल किया गया, तब 10 साल पहले की यह घटना एक बार फिर से खबरों में आ गई। इस बार तनुश्री को फिल्म इंडस्ट्री के कई बड़े सितारों का साथ मिल रहा है और इस बात पर बहस शुरू हो गई है। वैसे नाना पाटेकर ने 10 साल पहले भी और अभी भी तनुश्री के आरोपों को गलत बताया है। इस विवाद के तुरंत बाद से नाना राजस्थान में अपनी फिल्म हॉउसफुल 4 की शूटिंग कर रहे थे। बीते शनिवार की शाम राजस्थान से मुंबई पहुंचे नाना ने कहा था कि वह पूरी मीडिया से सोमवार को यानी आज बात करेंगे, लेकिन तय समय के कुछ देर पहले ही नाना ने अपना प्रेस कॉन्फ्रेंस कैंसल कर दिया। उधर नाना के मुंबई पहुंचने के तुरंत बाद ही तनुश्री में ओशिवारा पुलिस स्टेशन में पहली बार अपनी लिखित शिकायत दर्ज करवाई।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *