इस शैक्षणिक सत्र से कोटा और अलवर में शुरू होंगे कृषि महाविद्यालय-सैनी

जयपुर, 5 अप्रैल (का.सं.)। कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने बताया कि बजट घोषणा की अनुपालना में इस शैक्षणिक सत्र से कृषि अनुसंधान केन्द्र, नौगांवा(अलवर) और कोटा में कृषि महाविद्यालयों को शुरू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इन महाविद्यालयों के शुरू होने से प्रदेश में कृषि संकाय में शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्रों को फायदा होगा। सैनी गुरूवार को पंत कृषि भवन में कृषि एवं सम्बद्ध विभागों की बजट घोषणाओं की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बताया कि वित्तीय वर्ष 2017-18 में कृषि विभाग की 92 प्रतिशत और उद्यान विभाग की 87 प्रतिशत की वित्तीय प्रगति हुई। उन्होंने आगामी वित्तीय वर्ष में शत प्रतिशत प्रगति हासिल करने के निर्देश दिए। कृषि मंत्री सैनी ने विगत वित्तीय वर्ष की प्रगति की समीक्षा करते हुए आगामी वित्तीय वर्ष में विभागीय योजनाओं, कार्यक्रमों और बजट घोषणाओं की शीघ्र क्रियान्विति के लिए जल्द दिशा निर्देश जारी करने और लक्ष्य आवंटित करने के भी निर्देश दिए।बजट घोषणाओं और योजनाओं की होगी मासिक समीक्षा कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने बताया कि कृषि और सम्बद्ध विभागों से सम्बंधित बजट घोषणाओं और अन्य विभागीय योजनाओं की प्रगति की मासिक समीक्षा की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस कार्य में कोताही बरतने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ सख्त अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी। बैठक में कृषि एवं उद्यानिकी विभाग की अतिरिक्त मुख्य सचिव नीलकमल दरबारी, कृषि विभाग के आयुक्त विकास सीतारामजी भाले, कृषि विपणन विभाग के निदेशक नन्नूमल पहाडिय़ा, उद्यान विभाग के निदेशक वीपी सिंह, राजस्थान स्टेट सीड्स कॉर्पोरेशन की प्रबंध निदेशक सुषमा अरोड़ा सहित कृषि और सम्बद्ध विभागों के उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *