हवाई जहाज को भूल जाइए और हवाई बस के सपने देखना शुरू कर दीजिए

नई दिल्ली। क्या आप कल्पना कर सकते हैं कि आने वाले वक्त में आपके शहर की सड़कों पर लगने वाला चक्का जाम खत्म हो जाएगा। अगर नहीं, तो अब शुरू कर दीजिए। आप जिन बसों में सवारी करते हैं, भविष्य में वह आपको सड़कों पर दौड़ती नहीं दिखेंगी, बल्कि हवा में उड़ती दिखाई देंगी। क्योंकि जल्द ही पब्लिक ट्रांसपोर्टे की परिभाषा बदलने वाली है। आप तैयार हैं?
एयर बस ने एक फ्लाइंग कार का कांसेप्ट पेश किया है। आने वाले वक्त में शहरों में आबादी और बढऩे वाली है। ऐसे में यातायात के लिए बसों की संख्या भी सड़कों पर बढ़ेगी। उस स्थिति में जाम से बचने के लिए यह नया कांसेप्ट काफी काम का साबित होगा। कहा जा सकता है कि भविष्य में शहरों की रूपरेखा को देखते हुए ट्रांसपोर्ट के इस विकल्प का डिजाइन तैयार किया गया है। यूरोपियन अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी कंपनी एयरबस और डिजाइन एवं इंजीनियरिंग कंपनी इटालडिजिन मिलकर इस ‘पैसेंजर कैप्सूल को बनाने पर काम कर रही हैं। यह कैप्सूल किसी कार की तरह हवा में चलेगा। यह ड्रोन की मदद से उड़ाया जाएगा।
फ्लाइंग कार
जमीन और हवा दोनों पर कारगर
जेनेवा मोटर शो में इस कांसेप्ट के डिजाइन को दोनों कंपनियां मिलकर पेश कर चुकी हैं। यह व्हीकल जमीन और हवा दोनों में चल सकेगा। एयरबस का कहना है कि शहरों में बढ़ती जाम की समस्या से निजात पाने के लिए यह कांसेप्ट काफी मददगार साबित होगा। देखने-सुनने में यह अफवाह जैसा लग सकता है, लेकिन इसे काफी व्यवहारिक तरीके से तैयार किया गया है। भविष्य में यह ट्रांसपोर्ट का एक बेहतर विकल्प बनकर उभरेगा। एयर बस और इटालडिजिन ने अपने इस कांसेप्ट को ‘पॉपअप सिस्टमÓ नाम दिया है। यह आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस प्लेटफॉर्म पर आधारित होगा। जो उपयोगकर्ता के साथ-साथ, उपलब्ध रूट के बारे में जानकारी रखेगा। एयरबस के अनुसार हवा मे और जमीन पर समायोजन बनाकर हम यातायात को ज्यादा बेहतर बना सकते हैं।
बिना पायलट के चलेगी कार
सबसे खास बात कि यह फ्लाइंग कार बिना पायलट के चलेगी। इस पॉपअप को एक ऐप के जरिए कंट्रोल किया जा सकता है। एक बार चार्ज करने के बाद इसे 62 मील तक ड्राइव किया जा सकता है। समय की बचत के साथ-साथ यह एनर्जी सेविंग में भी मददगार साबित होगा। ट्रैफिक में फंसने से बचने में पॉपअप एक बेहतर समाधान की तरह है। उम्मीद की जा रही है कि यह ट्रांसपोर्टेशन का एक बेहतर माध्यम साबित होगा। ट्रेन और हवाई जहाज से भी बेहतर। इसमें कोई दोराय नहीं कि मॉडर्न शहरों में जाम की समस्या बहुत ज्यादा बढ़ गई है। ऐसे में यह नई तरह का ट्रांसपोर्ट लोगों के जाम में फंसने की टेंशन को काफी हद तक कम करेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *