पद्मावती विवाद पर अब बोलीं आलिया भट्ट, यह सब हो क्या रहा है, मैं Shocked हूं…

आलिया ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘यह तब होता है जब हिंसक धमकियां खुलेआम देने दी जाती हैं और उसकी सजा के तौर पर कुछ भी नहीं किया जाता. वहीं जावेद अख्तर ने लिखा, ‘मैं सच में आशा करता हूं कि ऐसे लोग जो 5 करोड़ किसी की गर्दन काटने के लिए और 10 करोड़ किसी की नाक काटने के लिए इनाम की घोषणा करते हैं, उनकी निंदा करना देश विरोधी गतिविधि नहीं कहलाएगा.

 

Alia Bhatt Tweet

आलिया ने कहा मैं सकते में हू
संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती’ की रिलीज के खिलाफ लगातार बढ़ते विरोध के बीच आज जयपुर में इस विरोध में घातक रूप ले लिया है. अभी तक इस विरोध में सिर्फ जुबानी जंग चल रही थी लेकिन जयपुर के नाहरगढ़ किले की दीवार पर एक युवक का शव लटका हुआ मिलने बॉलीवुड में भी इस घटना पर गुस्सा नजर आने लगा है. दरअसल इस लाश के नजदीक किले के पत्थरों पर ‘पद्मावती का विरोध’ जैसे शब्द लिखे हुए हैं. जयपुर की इस घटना के बाद एक्ट्रेस आलिया भट्ट ने भी अब इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है. बता दें कि नाहरगढ़ किले पर मिली इस लाश के पास एक पत्थर पर लिखा मिला है, ‘हम सिर्फ पुतले ही नहीं लटकाते.’ मौके पर पहुंची पुलिस के अनुसार यह हत्या है या आत्महत्या, जांच का विषय है और पोस्टमार्टम के बाद ही इस पर कुछ कहा जा सकेगा. हालांकि, करणी सेना ने इस घटना के पीछे अपना हाथ होने से साफ इनकार कर दिया है. करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्र कालवी ने कहा कि जो कुछ हुआ वो बहुत गलत है. लोग जिस तरह आक्रोशित हो रहे हैं जोश में होश खो रहे हैं, उसे तुरंत बंद कर देना चाहिए. ऐसा विरोध बिल्कुल गलत है. करणी सेना के अध्यक्ष महीपाल सिंह ने कहा कि यह आत्महत्या हो सकती है, क्योंकि विरोध-प्रदर्शन का ऐसा रास्ता उनका कतई नहीं है. आलिया ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘यह तब होता है जब हिंसक धमकियां खुलेआम देने दी जाती हैं और उसकी सजा के तौर पर कुछ भी नहीं किया जाता. यह हो क्या रहा है? सकते में हूं. आलिया के अलावा लेखक व कवि जावेद अख्तर ने भी इस मामले पर अपना गुस्?सा जाहिर किया है. उन्होंने लिखा, ‘मैं सच में आशा करता हूं कि ऐसे लोग जो 5 करोड़ किसी की गर्दन काटने के लिए और 10 करोड़ किसी की नाक काटने के लिए इनाम की घोषणा करते हैं, उनकी निंदा करना देश विरोधी गतिविधि नहीं कहलाएगा।

आलिया ने अपने ट्वीट में लिखा, यह तब होता है जब हिंसक धमकियां खुलेआम देने दी जाती हैं और उसकी सजा के तौर पर कुछ भी नहीं किया जाता. वहीं जावेद अख्तर ने लिखा, मैं सच में आशा करता हूं कि ऐसे लोग जो 5 करोड़ किसी की गर्दन काटने के लिए और 10 करोड़ किसी की नाक काटने के लिए इनाम की घोषणा करते हैं, उनकी निंदा करना देश विरोधी गतिविधि नहीं कहलाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *