कैटेलिस्ट फिनपोसियम का मर्चेंट डिजिटाईजेशन के दृष्टिकोण पर ईवेंट आयोजित

जयपुर, 26 अक्टूबर (एजेन्सी)। जयपुर में गुरूवार को आठवां कैटेलिस्ट फिनपोसियम आयोजित किया गया, जिसमें अंतिम छोर तक डिजिटल विनिमय संभव बनाने के लिए चुनौतियों व अवसरों पर ध्यान दिया गया। यह ईवेंट कैटेलिस्ट द्वारा डीओआईटी, राजस्थान सरकार के सहयोग से आयोजित की गई। कम और मध्यम आयवर्ग वाले ग्राहकों तथा छोटे कारोबारियों के बीच डिजिटल विनिमय संभव बनाने के बारे में गहन चिंतन के लिए जयपुर में कई नीतिनिर्माता, फिनटेक, डिजिटल फाईनेंस कंपनियां व सरकारी एजेंसियां एकत्रित हुईं। उद्घाटन सत्र में मौजूद गणमान्य लोगों में फर्नांडो मालडोनाडो, डायरेक्टर, डिजिटल फाईनेंस, यूएसएड, डॉ. हंसराज यादव, एडिशनल डायरेक्टर, डीओआईटी, सुश्री शैरन ब्यूटो, क्जि़क्यूटिव डायरेक्टर, आईएफएमआर लीड, पुनीत शुक्ला, नीति आयोग शामिल थे। इस ईवेंट में मर्चेंट डिजि़टाईजेशन के दृष्टिकोण, संचार एवं संलग्नता की कार्ययोजनाओं द्वारा कंज़्यूमर डिजि़टाईजेशन, क्रिएटिव इंसेंटिव तथा संबंधित उत्पाद जैसी थीम्स पर विशेष सत्र आयोजित किए गए ताकि अंतिम छोर के लिए व्यवहारात्मक एवं फिनटेक समाधानों में परिवर्तन लाया जा सके। इस दिन का समापन सफल समाधान तथा बिजऩेस मॉडल सपोर्ट करने, बनाए रखने और स्केल करने के लिए कार्ययोजनाओं व साझेदारी पर केंद्रण के साथ भविष्य की योजनाओं पर चर्चा के साथ हुआ। अपनी डिजिटल पेमेंट्स लैब के द्वारा जयपुर में कैटेलिस्ट के कार्यों का व्यापक प्रेज़ेंटेशन देते हुए कैटेलिस्ट के सीईओ, बादल मलिक ने लोगों को क्रेडिट जैसे फायदे लेने के लिए इसे एक नींव के पत्थर के रूप में उपयोग करते हुए विनिमय से आगे बढ़कर लाभ सुनिश्चित करने की जरूरत पर बल दिया। उन्होंने कहा कि ग्राहकों व कारोबारियों के व्यवहार में संदर्भ महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है। हमें समाधानों का विकास करते वक्त प्रत्येक के लिए विशिष्ट जरूरतों व चुनौतियों का ध्यान रखने की जरूरत है।यहाँ कैटेलिस्ट द्वारा प्रमोट व क्रियान्वित किए गए विभिन्न मॉडल व अभियान विभिन्न सत्रों व प्रेजेंटेशन के माध्यम से साझा किए गए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *