हैदराबाद मुक्ति संग्राम दिवस पर नायडू, शाह ने दी शुभकामनाएं

नयी दिल्ली। पूर्ववर्ती हैदराबाद राज्य से निजाम का शासन समाप्त कर भारत संघ में उसके विलय की 70वीं वर्षगांठ पर उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने क्षेत्र के लोगों को शुभकामनाएं दी हैं। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने ट्विटर पर लिखा है, ”आज पूर्ववर्ती हैदराबाद राज्य का मुक्ति दिवस है। तेलंगाना और महाराष्ट्र तथा कर्नाटक के कुछ हिस्सों के लोगों के लिए यादगार दिन है। उन्होंने लिखा है, ”हम सभी को भारत के साथ हैदराबाद राज्य के विलय में सरदार पटेल की महत्वपूर्ण भूमिका को भुलाना नहीं चाहिए। शाह ने ट्वीट किया है, ”तेलंगाना, मराठवाड़ा, हैदराबाद और कर्नाटक के भाईयों बहनों को इसी दिन भारत संघ में शामिल होने पर शुभकामनाएं। हैदराबाद के निजाम ने अगस्त 1947 में मिली आजादी के बाद भारत संघ से अलग रहने का फैसला किया था जिसका वहां के स्थानीय लोगों ने स्वामी रामानन्द तीर्थ के नेतृत्व में विरोध किया। हैदराबाद के प्रमुख कांग्रेस नेता रहे शिक्षाविद तथा सामाजिक कार्यकर्ता रामानन्द तीर्थ ने पूर्ववर्ती राजशाही को समाप्त कर भारत संघ में हैदराबाद के विलय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इस विलय में तत्कालीन गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल ने भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। आंतरिक विद्रोह के बाद भारत ने पुलिस कार्रवाई करते हुए हैदराबाद से निजाम के शासन को समाप्त कर 17 सितंबर, 1948 को उसका विलय भारत में कर लिया। पूर्ववर्ती हैदराबाद राज्य, ब्रिटिश भारत की रियासत था। इसमें वर्तमान तेलंगाना, मराठवाड़ा, उत्तर कर्नाटक और विदर्भ के कुछ भाग सम्मिलित थे। हैदराबाद को भारत संघ में मिलाने के लिए की गयी पुलिस कार्रवाई को ऑपरेशन पोलो नाम दिया गया था। गौरतलब है कि कर्नाटक में अगले वर्ष के पूर्वाद्र्ध में विधानसभा चुनाव होने हैं। वर्तमान विधानसभा का कार्यकाल मई 2018 में पूरा होने वाला है। राज्य में फिलहाल कांग्रेस नेतृत्व वाली सरकार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *