नकबजनी की योजना बनाते पांच बदमाश गिरफ्तार, पुलिस ने पूछताछ की तो हुआ बड़ा खुलासा

 

जयपुर, 16 जनवरी (एजेंसी)। डीसीपी ईस्ट पुलिस को राजधानी जयपुर में नकबजन गिरोह का पर्दाफाश करने में एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने नकबजनी की योजना बनाते हुए पांच आरोपियों को धरदबोचा है। पुलिस उपायुक्त जयपुर पूर्व कुंवर राष्ट्रदीप के मुताबिक रात में मुखबिर से सूचना से मिली थीकि 5-6 चोर बम्बाला पुलिया के पास गन्दे नाले मे चोरी, नकबजनी की योजना बना रहे हैं। आरोपियों के पास चोरी करने के औजार भी हैं। मुखबिर की इत्तला के आधार पर पुलिस ने दबिश दी तो बम्बाला पुलिया की तरफ 5-6 व्यक्ति मय वाहनों के साथ बैठे नजर आए। पुलिस ने आरोपियों को घेरा देकर पकड लिया।गिरफ्तार आरोपी विजय कुमार मीणा निवासी गॉव ढहरिया थाना नादौती जिला करौली, सत्यभान मीणा निवासी गॉव जिन्सीकापुरा थाना टोडाभीम करौली, विकास उर्फ विक्की निवासी गॉव बडापुरा थाना टोडाभीम करौली, हरिओम निवासी गॉव पोस्ट नगला लाट थाना टोडाभीम करौली और पंकज मीणा उर्फ पवन निवासी गॉव जनसीकापुरा थाना टोडाभीम जिला करौली हैं। आरोपी जयपुर में किराए का मकान लेकर वारदातों को अंजाम देते हैं। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से नकबजनी करने के दो औजार लोहे के नकब, बरामद किये गये हैं। साथ ही पुलिस ने एक मेजर जीप व एक बुलट मोटर साईकिल भी जब्त की है। पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने नकबजनी के साथ वाहन चोरी की करीब दो दर्जन से ज्यादा वारदातों को भी अंजाम देना कबूल किया है। आरोपियों ने ज्यादातर वारदातें सांगानेर, सांगानेर सदर, प्रताप नगर, मालवीय नगर थाना इलाके में की है। आरोपी पंकज उर्फ पवन मीणा के विरूद्व पूर्व मे नकबजनी, वाहन चोरी के करीब एक दर्जन प्रकरण पंजीबद्व हैं। मुल्जिम विजय मीणा के विरूद्व पूर्व मे चोरी, नकबजनी के करीब 4-5 प्रकरण पंजीबद्व हैं। मुल्जिम विकास मीणा अम्र्स एक्ट मे गिरफ्तार हो चुका है। मुल्जिम, हरीओम के विरूद्व पूर्व में 12 लाख की लूट व चोरी व नकबजनी के करीब 5-6 प्रकरण पंजीबद्व हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *