बिरला कॉर्पोरेशन का लाभ दूसरी तिमाही में 450 प्रतिशत बढ़ा

कोलकाता, 6 नम्वबर (एजेन्सी)। कोर सेक्टर में मंदी के बावजूद बिरला कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने जुलाई-सितंबर तिमाही में 88 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया है, जो पिछले साल की समान अवधि के मुकाबले 450 प्रतिशत अधिक है। बीते साल की समान अवधि में कंपनी ने 16 करोड़ रुपए का लाभ दर्ज किया था। कंपनी ने प्रीमियम और मिक्स सीमेंट की बिक्री बढ़ाने से लेकर लागत को नियंत्रण में रखते हुए लाभ बढ़ाने में सफलता हासिल की है। इसके साथ ही सितंबर तिमाही के लिए नकद लाभ पिछले वर्ष की इसी अवधि में 112 करोड़ रुपये से दोगुना होकर 229 करोड़ रुपये हो गया, जबकि एबिड्टा 61 प्रतिशत बढ़कर 332 करोड़ रुपये हो गया। सितंबर तिमाही के एबिटा मार्जिन में साल-दर-साल 13.9 प्रतिशत से 20.15 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। सितंबर तिमाही में राजस्व 10.9 प्रतिशत बढ़कर साल दर साल 1,647 करोड़ रुपये हो गया, जिसकी श्रेय क्षमता के 83 प्रतिशत उपयोग को जाता है- जो उद्योग में सबसे ‘यादा है- और प्रीमियम और मिश्रित सीमेंट की बिक्री में तेजी से भी आय बढ़ी है। एक बेहतर मानसून और उदास मांग के बावजूद, तिमाही के दौरान कंपनी की बिक्री में वर्ष दर वर्ष 4.1 प्रतिशत की बढ़त के साथ 3.2 मिलियन टन की वृद्धि हुई। सितंबर तक तीन महीनों में, बिरला कॉर्पोरेशन ने अधिक लाभ वाले बिजनेस या रिटेल, चैनलों के माध्यम से 2.65 मिलियन टन सीमेंट (कुल बिक्री का 83 प्रतिशत) बेचा। प्रीमियम सीमेंट का व्यापार चैनल के माध्यम से बिक्री का 41 प्रतिशत था, जबकि पिछले वर्ष इसी अवधि में ये 37 प्रतिशत था। कुल बिक्री में मिश्रित सीमेंट की हिस्सेदारी पिछले साल सितंबर तिमाही में 87 प्रतिशत से इस साल की समान तिमाही में 93 प्रतिशत तक बढ़ गई है। प्रति टन की दर से वर्ष दर वर्ष 6.1 प्रतिशत बढ़कर 4,815 रुपये हो गया, जबकि सितंबर तिमाही के लिए एबिड्टा का प्रति टन 54 प्रतिशत उछलकर 956 रुपये हो गया। इस वर्ष सितंबर तिमाही में वसूली में 278 रुपये प्रति टन से अधिक का उछाल आया। इसमें प्रमुख तौर पर बिजली, ईंधन और क’चे माल की लागत में पर्याप्त बचत के कारण सफलता मिली है। वहीं 4 प्रतिशत की वॉल्यूम ग्रोथ के साथ, बिरला कॉर्पोरेशन लिमिटेड ने अपने अधिकांश प्रतिस्पर्धीयों को पछाड़ दिया है, जिन्होंने सितंबर तिमाही में फ्लैट या नकारात्मक बिक्री दर्ज की है। अधिकांश बाजारों में सुस्त मांग के बावजूद, कंपनी के ब्रांड में निवेश का व्यापार खंड में बाजार हिस्सेदारी को बनाए रखने या विस्तार करने से लाभ मिलना शुरू हो गया है। विविध पोर्टफोलियो में मिश्रित सीमेंट और प्रीमियम ब्रांडों की हिस्सेदारी बढ़ाने पर कंपनी ने काफी जोर दिया, जिससे कंपनी का ब्लेंडेंड सीमेंट अब कुल बिक्री का 93 प्रतिशत है। इसने किं्लकर रियलाइजेशन को काफी बढ़ाया है। ओपीसी के प्रमुख बाजारों में मिश्रित सीमेंट के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए कंपनी का बिल्ड वाटर स्मार्ट अभियान – उद्योग के लिए एक पहला- अच्छी तरह से आगे बढ़ाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *