अरविंद केजरीवाल के बढ़ते प्रभाव के भाजपा, कांग्रेस में बौखलाहट, हत्या की रच रही है साजिश

पिछले 25 दिनों में 3 बार हमला होना देता है गवाही
जयपुर। आम आदमी पार्टी ने बुधवार को प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा कि ” देश मे अरविंद केजरीवाल की लोकप्रियता बढ़ते देख भाजपा और कांग्रेस बौखलाए हुए है, आए दिन अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी को मिटाने के नए नए हथकंडे अपना कर बदनाम करने की साजिश में नाकाम होने के बाद अब दोनों ही दल अरविंद केजरीवाल को जान से मारने की साजिश रचना शुरू कर दिए है।
आप मीडिया प्रभारी अभिषेक जैन बिट्टू ने बताया कि दिल्ली देश की राजधानी है जिस पर देश की सभी सुरक्षा एजेंसियों की नजर भी सदैव बनी रहती उसके बावजूद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा में चूक होना यह केंद्र सरकार, भाजपा और कांग्रेस की मिलीजुली साजिश है क्योंकि आज जिस प्रकार देश मे अरविंद केजरीवाल का प्रभाव बढता जा रहा है उससे सबसे ज़्यादा भाजपा और कांग्रेस ही प्रभावित हो रही है क्योंकि दिल्ली में काँग्रेस का पहले ही अस्तित्व नही बचा और लोकसभा चुनाव के बाद दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा के अस्तित्व पर भी सवाल खड़े हो गए। जिसके चलते यह दोनों दल साम, दाम, दंड, भेद कर दिल्ली सरकार और आम आदमी पार्टी को मिटाने की साजिश लगातार रच रहे है। जैन ने कहा कि पंजाब चुनाव में भी यही हुआ जब इन दोनों दलों को लगा कि पंजाब में आम आदमी पार्टी अपने पांव पसार चुकी है और सत्ता बनाने जा रही है तो चुनाव के अंतिम श्रणों में भाजपा और कांग्रेस ने हाथ मिला लिया। जिससे पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार ना बन सके, ठीक उसी प्रकार देश के अन्य राज्यो में हो रहा है अभी हाल ही में पार्टी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान की लगभग सभी सीटों पर चुनाव लड़ रही है जिसके चलते दोनों दल बौखलाहट में है और डरे हुए है यह लोग नही चाहते कि देश और राज्यो में सुशासन आये जिसके चलते बन्द कमरों में देश और मुद्दों को ताक में रखकर आपसी समझौते कर रहे है। क्योंकि अगर इन राज्यो में से किसी भी राज्य में आम आदमी पार्टी की सरकार बन गई तो भाजपा और कांग्रेस के घोटालों, भ्रष्टाचार और मिलीभगत की पोल खुल जाएगी। इसलिए इन दोनों दलों के लिए आम आदमी पार्टी नासूर बनकर उभरी जो इन दोनों दलों को आइना दिखा रही जो उन दलों को बर्दाश्त नही हो रहा है जिसके चलते पहले भाजपा सरकार ने आम आदमी पार्टी के दुष्प्रचार का सहारा लिया उसमे कामयाबी नही मिली तो विधायकों को तोड़ने की साजिश रची उसमे में कामयाबी नही मिली तो सीबीआई के छापे पढ़वाकर कर डराया – धमकाया उसमे भी कामयाबी नही मिली तो, झूठे मनगढ़ंत आरोप लगा एफआईआर दर्ज करवाई उनमें भी मुंह की खानी पड़ी तो इन विफलताओं के हताश और निराश होकर अब भाजपा और कांग्रेस अरविंद केजरीवाल को जान से मारने की साजिश रच रही है। पहले सिग्नेचर ब्रिज उदघाटन पर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और सांसद का भरी बोतल अरविंद केजरीवाल पर मारना, फिर अभी 5-6 दिन पहले मिर्ची पावडर से दिल्ली सचिवालय में घुस कर हमला करना और अब मंगलवार को एक व्यक्ति कारतूस लेकर सीएम के पास जाता है तो यह साफ संकेत देता है कि भ्रष्टाचार के खिलाफ क्रांति के जनक अरविंद केजरीवाल की सुरक्षा में लगातार जानबूझकर चूक की जा रही है जिसके चलते लगातार खुलेआम एक मुख्यमंत्री पर हमले हो रहे है। दिल्ली में सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्रीय गृहमंत्रालय के आधीन है जिसमे भाजपा सत्ताशीन है। जो चाहती है कि कैसे ना कैसे कर अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी का वजूद खत्म किया जाए लेकिन देश के उन सभी गद्दारो को साफ साफ कहना चाहेंगे कि अरविंद केजरीवाल एक इंसान के साथ देश के करोड़ो लोगो की सोच और समझ है। अरविंद केजरीवाल वह व्यक्ति है जिसने देश के लिए धर्म जाति से ऊपर उठकर देश मे शिक्षा, चिकित्सा की क्रांति का विश्व स्तरीय आयाम और पहचान दी है। ऐसे व्यक्ति की हत्या की साजिश रचना भाजपा और कांग्रेस की कायरता और नाकामी को प्रदर्शित करती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *