बिक रही है बैटरी की नंबर 1 कंपनी एवरेडी, खरीदार की हो रही तलाश

 

कोलकाता/मुंबई। बीएम खैतान की अगुवाई वाली विलियम्सन मैगर अपनी फ्लैगशिप कंपनी एवरेडी इंडस्ट्रीज को बेच रही है। एवरेडी ड्राइ सेल बैटरीज और फ्लैशलाइट्स सेक्टर की सबसे बड़ी कंपनी है। देश के पुराने कन्ज्यूमर ब्रैंड्स में एक एवरेडी के लिए बोली मंगाई जा रही है। इन गतिविधियों से वाकिफ एक व्यक्ति ने इसकी जानकारी दी। एवरेडी के प्रमोटर बीएम खैतान के पास इसके 45 प्रतिशत शेयर हैं। कहा जा रहा है कि उन्होंने बिक्री प्रक्रिया को अंजाम देने के लिए कोटक महिंद्रा बैंक का चयन किया है। खैतान परिवार अपने प्रमुख बैटरी ऑपरेशन की बिक्री सुस्त पडऩे के मद्देनजर 1,500 करोड़ रुपये के इस कारोबार की समीक्षा कर रहा है। ग्रुप कंपनियों में दुनिया की सबसे बड़ी बल्क टी प्रॉड्यूसर मैकलियॉड रसेल, किलबर्न इंजीनियरिंग और मैकनैली भारत आदि शामिल हैं। एवरेडी सौ साल से ज्यादा पुराना ब्रैंड है। 1905 से इस पर यूनियन कार्बाइड इंडिया का मालिकाना हक रहा था। खैतान परिवार ने 1990 के दशक की शुरुआत में इसे अपने कब्जे में लेने के लिए बॉम्बे डाइंग के नुस्ली वाडिया के साथ तीखी लड़ाई लड़ी। इस संघर्ष में खैतान परिवार की जीत हुई और 300 करोड़ रुपये में एवरेडी उनकी हो गई। लेकिन, अभी उसका शेयर प्राइस पिछले साल के मुकाबले आधी रह गया। इस लिहाज से उसका ताजा मार्केट वैल्यू 1,350 करोड़ रुपये है। एवरेडी इंडस्ट्रीज के एमडी अमृतांशु खैतान से संपर्क की कोशिश की गई, लेकिन उनसे बातचीत नहीं हो पाई। हालांकि, उनके पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि पहले विकल्प के रूप में कंपनी के प्रमोटर्स एक स्ट्रैटिजिक पार्टनर की तलाश करेंगे जो उनके कुछ शेयर खरीद ले। एक सूत्र ने बताया, ‘सब ठीक-ठाक रहा तो वे अपना 30 प्रतिशत शेयर बेच देंगे जबकि 10 से 15 प्रतिशत शेयर अपने पास रखेंगे।’ एवरेडी हर साल 1 अरब 20 करोड़ से ज्यादा बैटरी और 2.5 करोड़ फ्लैशलाइट बेचती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *