कूकरखेड़ा प्रकरण -प्रस्ताव प्राप्त होने पर सम्बन्धित स्थानीय निकाय द्वारा मुआवजा राशि दी जाएगी-कृपलानी

जयपुर, 9 मार्च (का.सं.)। स्वायत्त शासन मंत्री चंद कृपलानी ने शुक्रवार को विधानसभा में बताया कि कृषि ऊपज मण्डी, कूकरखेड़ा में मृतक के आश्रितों को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की अनुशंषा पर सम्बन्धित स्थानीय निकाय द्वारा मुआवजा राशि दी जाएगी। कृपलानी ने शून्यकाल में इस संबंध में उठाए गए मुद्दे पर हस्तक्षेप करते हुए बताया किकृषि ऊपज मण्डी, कूकरखेड़ा रोड नम्बर 9, सीकर रोड के अन्दर सीवर लाईन के चैम्बर में फरवरी, 2018 में सफाईकर्मी की दम घुटने से मृत्यु हुई थी। यह क्षेत्र कृषि ऊपज मण्डी, कूकरखेड़ा के अन्तर्गत आता है। जिस सफाई कर्मी की मृत्यु हुई, वह नगर निगम, जयपुर का कर्मचारी नहीं था। उन्होंने बताया कि राजस्थान राज्य के विभिन्न शहरी क्षेत्रों में सीवरेज कार्यों/मैन हॉल सैफ्टी टैंक सफाई कार्य के दौरान मृत्यु हो जाने पर मृतक के आश्रितों को 10 लाख रुपये की मुआवजा राशि का भुगतान सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की अनुशंषा पर सम्बन्धित स्थानीय निकाय द्वारा किया जाता है। कृपलानी ने बताया कि विभाग द्वारा दिनांक 27 अप्रैल, 2017 को इस प्रकार के नगर निगम, जोधपुर के 3 प्रकरणों में, नगरपालिका, लाडनूं के 2 प्रकरणों में, नगरपालिका, नवलगढ़ के एक प्रकरण तथा नगर निगम, उदयपुर के 4 प्रकरणों में प्रत्येक में 10-10 लाख रुपये की मुआवजा राशि का भुगतान मृतकों के आश्रितों को किये जाने की स्वीकृति जारी की गई है। उन्होंने बताया कि सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा इस सम्बन्ध में कोई प्रकरण इस विभाग को अब तक प्राप्त नहीं हुआ है।स्वायत्त शासन मंत्री चंद कृपलानी ने बताया किमाननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा सिविल याचिका संख्या 583/2003 के निर्णय दिनांक 27 मार्च, 2014 व इस सम्बन्ध में दायर प्रार्थना-पत्र संख्या 9/2016 के निर्णय दिनांक10 मई, 2016 में इस प्रकार के प्रकरणों में 10 मृतक आश्रितों को 10 लाख रुपये का मुआवजा दिये जाने के आदेश हैं।सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग द्वारा इस तरह के प्रकरणों में जांच की जाकर मुआवजा भुगतान हेतु सम्बन्धित विभाग को प्रकरण अग्रेषित किया जाता है। गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने इस सम्बन्ध में बताया कि इस प्रकरण में एफआईआर 111/18 दर्ज की गई है। इसके तहत कैलाश नाम के ठेकदार को गिरफ्तार कर लिया गया। वह अभी कोट से जमानत पर बरी हुआ है। उन्होंने बताया कि पुलिस आवश्यक कार्यवाही की है। आगे की कार्यवाही चल रही है। उद्योग मंत्री राजपाल सिंह शेखावत ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा इस प्रकरण में मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपए और घायल को 50 हजार रुपए की घोषणा कर दी गई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *