सांख्यिकी का है देश के विकास में बड़ा योगदान-डॉ. किरण

 contributor to the development of the country

जयपुर, 29 जून (का.सं.)। राजस्थान वित्त आयोग की अध्यक्ष डॉ. ज्योति किरण ने कहा कि सांख्यिकी का देश के विकास में बड़ा योगदान है। उन्होंने कहा कि किसी भी योजना को बनाने में आंकड़ों का महत्वपूर्ण योगदान होता और आंकड़े किसी भी व्यक्ति के जीवनक्रम को बदलने की क्षमता रखते हैं। डॉ. ज्योति किरण शुक्रवार को ओटीएस के भगवंत सिंह मेहता सभागार में डॉ. पी.सी. महालनोबिस की स्मृति में सांख्यिकी दिवस के अवसर पर आयोजित राज्य स्तरीय समारोह के उद्घाटन सत्र को सम्बोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि रियल टाइम डाटा की जरूरत 1980 के बाद महसूस हुई और आज रियल टाइम डाटा देश की योजनाओं के निर्माण में बहुत सहायक सिद्ध हो रहा है। उन्होंने कहा कि अगर आंकड़े त्वरित, सही और सटीक होंगे, तो आवश्यकतानुसार योजनाएं बन सकेंगी, जिसका फायदा सीधे तौर पर देश के आमजन को मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साफ नीयत- सही विकास के विजन को साकार करने में भी आंकड़ों की संगतता का महत्वपूर्ण योगदान है। उन्होंने सांख्यिकी विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों से आह्वान किया कि वे पूर्ण समपर्ण के साथ काम करें क्योंकि उनके काम के आधार पर राज्य की जनता का भाग्य निर्धारण होता है। इस सत्र को सम्बोधित करते हुए हरिश्चन्द्र माथुर राजस्थान राज्य लोक प्रशासन संस्थान की महानिदेशक डॉ. गुरूजोत कौर ने कहा कि सांख्यिकी विभाग का दायित्व है कि आंकड़ों की विश्वसनीयता बरकरार रहनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आंकड़ों को विश्व बैंक भी विश्वसनीय मानता है, जो हमारे आंकड़े संग्रहण की पद्धति को प्रमाणिक सिद्ध करता है। उन्होंने देश के विकास में सांख्यिकी का महत्वपूर्ण योगदान बताया। इससे पूर्व आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के निदेशक डॉ. ओमप्रकाश बैरवा ने कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर आयोजना विभाग की संयुक्त शासन सचिव शकुंतला सिंह, नेशनल सेम्पल सर्वे संगठन के उपमहानिदश्ेाक एस.एल. मेनारिया सहित उच्चाधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *