सात लाख 42 हजार किसानों को मिले ऋ ण माफी प्रमाण पत्र

पांच हजार 395 करोड़ रुपये का हुआ फसली ऋ ण वितरित

जयपुर, 12 जुलाई (का.सं.)। सहकारिता मंत्री अजय सिंह किलक ने गुरूवार को बताया कि प्रदेश में 4 जून से 11 जुलाई तक 3 हजार 185 ऋणमाफी शिविरों का आयोजन किया जा चुका है। इन शिविरों के माध्यम से सहकारी बैंकों से जुड़े 7 लाख 42 हजार 755 किसानों को 2177.46 करोड़ रुपये के ऋणमाफी प्रमाण पत्र वितरित हो चुके हैं।उन्होंने बताया कि अब तक 13.46 लाख किसानों के 4175.47 करोड़ रुपये से अधिक के ऋणमाफी प्रमाण पत्र तैयार किये जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि किसानों के खरीफ सीजन में लगातार फसली ऋण का वितरण किसानों को किया जा रहा है और 11 जुलाई तक 5 हजार 395 करोड़ रुपये का फसली ऋण किसानों को बांटा जा चुका है।किलक ने बताया कि 13 एवं 14 जुलाई को 216 ग्राम सेवा सहकारी समितियों में 197 शिविरों का आयोजन हो रहा है जिसमें लगभग 70 हजार किसान लाभान्वित होंगे। उन्होंने बताया कि 11 जुलाई तक 5 लाख 6 हजार 734 सीमान्त एवं लघु किसानों को 1572.17 करोड़ रुपये तथा 2 लाख 36 हजार 21 अन्य किसानों को 605.29 करोड़ रुपये के फसली ऋण माफी के प्रमाण पत्र प्रदान किये गये। सहकारिता मंत्री ने बताया कि किसान द्वारा मूल ऋणमाफी के बाद शेष बकाया राशि जमा कराने पर एवं ऋण के लिये आवेदन करने पर पूर्व में जितना ऋण स्वीकृत था उतना ऋण किसानों को उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि आयोजित किये गये 3 हजार 185 शिविरों में 3535 ग्राम सेवा सहकारी समितियों के किसानों को ऋण माफी का लाभ दिया जा चुका है। प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता अभय कुमार ने बताया कि शिविरों में 5 लाख 6 हजार 734 सीमान्त एवं लघु किसानों का 1477 करोड़ 24 लाख रुपये मूल ऋण, 75 करोड़ 22 लाख रुपये ब्याज राशि एवं 19 करोड़ 71 लाख रुपये की शास्ति राशि सहित कुल 1572 करोड़ 17 लाख रुपये का कर्जमाफ किया गया है।
कुमार ने बताया कि अबतक 21 लाख 95 हजार किसानों के खातों के डेटा के वेलिडेशन कार्य पूरा हो चुका है और तैयार किये 12 लाख 95 हजार ऋणमाफी प्रमाण पत्रों में से 7 लाख 42 हजार 755 किसानों को ऋणमाफी प्रमाण पत्र वितरित कर दिये गये हैं। उन्होंने बताया कि शेष किसानों को भी शीघ्रता से ऋणमाफी प्रमाण पत्र उपलब्ध कराये जा रहे हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *