लोकतंत्र में विकास ही उत्थान की मूल कुंजी-राठौड़

जयपुर, 15 जून (का.सं.)। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री राजेन्द्र राठौड़ ने कहा है कि लोकतंत्र में विकास ही उत्थान की मूल कूंजी है इसी अवधारणा के अनुरूप वर्तमान राज्य सरकार ग्राम एवं ग्रामीणों के सर्वांगिण विकास के लिए दृढ़ संकल्पित है। ग्रामीण विकास मंत्री शुक्रवार को चूरू ब्लॉक के ग्राम झारिया में पाईप्ड जल प्रदाय योजना (ग्रामीण जल योजना) के तहत 3 करोड़ 28 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले उच्च जलाशय के शिलान्यास समारोह में बोल रहे थे।उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि उच्च जलाशय का निर्माण होने के बाद ग्राम में घर-घर जल कनेक्शन होगा जिसके फलस्वरूप ग्रामीणों के जीवन स्तर में सुधार आयेगा। उन्होंने कहा कि योजनान्तर्गत पेयजल की बर्बादी रूकेगी एवं ग्रामीणों को मीठा पानी मुहैया होगा। इस अवसर पर पंचायती राज मंत्री ने कहा कि गत साढ़े चार वर्षों में ग्राम झारिया में 11 करोड़ रुपये के 156 विकास कार्य करवाए गए जिसके तहत सड़क, शिक्षा, चिकित्सा, विधुत, नाली निर्माण, किसान पथ एवं गौरव पथ का निर्माण होने से ग्रामीणों को बेहत्तर सुविधाएं हासिल हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा संचालित फसली ऋण माफी योजनान्तर्गत चूरू जिले में कुल 81 करोड़ रुपये माफ हुए है जबकि चूरू तहसील क्षेत्र में 41 करोड़ रुपये का ऋण माफ होने से किसानों को राहत प्रदान हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा राज्य में किसानों को बिना ब्याज के 58 हजार करोड़ रुपये का ऋण मुहैया करवाकर किसानों को आर्थिक सम्बल प्रदान किया है। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि श्रम कार्ड योजनान्तर्गत पात्र श्रमिक 30 हजार से 30 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य लाभ उठा सकता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजनान्तर्गत सरकार पात्र व्यक्ति को एक लाख 45 हजार रुपये में आवास मुहैया करवा रही है। उन्होंने ग्रामीणों की समस्याओं की सुनवाई करते हुए झारिया से चलकोई तक सड़क निर्माण करवाने का आश्वासन दिया।शिलान्यास समारोह में चूरू जिला प्रमुख हरलाल सहारण ने कहा कि राज्य सरकार ग्राम एवं ग्रामीणों के समुचित विकास के लिए गांवों में हर आवश्यक सुविधाएं मुहैया करवा रही है। उन्होंने झारिया गांव की गोगामेड़ी में 5 लाख रुपये की लागत से सुलभ शौचालय निर्माण कराने की घोषणा की। सभापति विजय कुमार शर्मा ने गत साढे चार वर्षों में चूरू तहसील क्षेत्र में कराये गये विकास कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि ग्रामीणजन जागरुक होकर राज्य सरकार द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठावें।
पाईप्ड जल प्रदाय योजना घण्टेल का शिलान्यास :- ग्रामीण विकास मंत्री ने शुक्रवार को ही चूरू जिले के घण्टेल में पाईप्ड जलप्रदाय योजनान्तर्गत 72 लाख 54 हजार रुपये की लागत से निर्मित होने वाले उच्च जलाशय का शिलान्यास किया। इस अवसर पर पंचायती राज मंत्री ने कहा कि योजनान्तर्गत ग्रामीणों को घर-घर जल कनेक्शन मुहैया होने से पानी की बर्बादी रूकेगी एवं मीठा पानी सुलभ होगा। उन्होंने कहा कि गत साढ़े चार वर्षों में घण्टेल गांव में 15 करोड़ रुपये के विकास कार्य पूर्ण कराये गये है। पंचायती राज मंत्री के ग्रामीण दौरे के दौरान झारिया ग्राम सरपंच बालाराम, सोहनलाल सहारण, प्यारेलाल ढाका, पदमसिंह सहित जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीण जन उपस्थित थे।
राजस्व शिविर का निरीक्षण :- पंचायती राज मंत्री ने शुक्रवार को ग्राम पंचायत घण्टेल में न्याय आपके द्वारा अभियान के तहत आयोजित राजस्व शिविर का निरीक्षण करते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे ग्रामीणों की हर समस्या का शिविर में ही समाधान कर लाभान्वित करना सुनिश्चित करें। इस अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्री ने ग्रामीणों को पट्टे, बीज मिनिकिट्स एवं उज्जवला गैस कनेक्शन वितरित कर लाभान्वित किया। उन्होंने विधुत अभियंता को निर्देशित किया कि घण्टेल ग्राम पंचायत की 20 ढाणियों का 25 जून तक विधुतिकरण किया जाए। उन्होंने पेयजल अभियंता से कहा कि वे झारिया गांव में पेयजल व्यवस्था को त्वरित सुचारू करें। शिविर प्रभारी श्वेता कोचर ने बताया कि शिविर में ग्रामीणों के राजस्व सम्बन्धी लम्बित प्रकरणों का निस्तारण करने के साथ ही पेयजल, विधुत, चिकित्सा, रसद सहित विभिन्न समस्याओं का समाधान किया जा रहा है। इस अवसर पर तहसीलदार महीपाल सिंह राजावत सहित राजस्व अधिकारी व कार्मिक एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी, जनप्रतिनिधि व ग्रामीण उपस्थित थे।
बूंटिया व लोहसना बड़ा में शिलान्यास :- ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने शुक्रवार को ही पाईप्ड जल प्रदाय योजनान्तर्गत बूंटिया में 267 लाख रुपये एवं लोहसना बड़ा में 163.81 लाख रुपये की लागत से उच्च जलाशय का शिलान्यास किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *