चंगुल में फंसा कर देवरानी-जेठानी का देहशोषण

 

बस ऑपरेटर और उसका साथी नामजद

श्रीगंगानगर, 6 अक्टूबर (का.सं.)। श्रीगंगानगर में देवरानी और जेठानी को चंगुल में फंसा कर एक प्राइवेट बस ऑपरेटर और उसके साथी द्वारा लगभग डेढ़ वर्ष तक देहशोषण करने का एक बड़ा मामला उजागर हुआ है। पीडि़त देवरानी व जेठानी द्वारा पुलिस अधीक्षक को दिए गए प्रार्थना पत्र के आधार पर शनिवार को महिला थाना पुलिस ने इन दोनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। पीडि़त युवतियों का पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आज मेडिकल चेकअप भी करवाया। अब उनके मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान दर्ज करवाने की कार्रवाई की जाएगी।यह मुकदमा दर्ज होने की भनक लगते ही ट्रांसपोर्टर और उसका साथी शहर से गायब हो गए हैं।पुलिस के मुताबिक पीडि़त देवरानी और जेठानी पुरानी बस्ती में दशमेश कॉलोनी की निवासी हैं।उनके द्वारा दिए गए प्रार्थना पत्र के आधार पर उधमसिंह चौक के नजदीक प्राइवेट बस ऑपरेटर विजय उर्फ विजय बुट्टर तथा उसके एक साथी हरनाम सिंह उर्फ हरमन के विरुद्ध धारा 376 में यह मामला दर्ज किया गया है। पीडि़त युवतियों ने बताया है कि लगभग डेढ़ वर्ष से यह दोनों उनकी अश्लील मूवी और चित्र को सार्वजनिक कर देने की धमकी देकर उनका देहशोषण कर रहे हैं। पुलिस के अनुसार पीडि़त देवरानी ने रिपोर्ट में बताया है कि उसे नौकरी की जरूरत थी।इसके लिए उसने अपने जानकारों को बोल रखा था।करीब डेढ़ वर्ष पहले हरनामसिंह नामक व्यक्ति का फोन आया और कहा कि उसे नौकरी की जरूरत है तो वह उसे आकर उधमसिंह चौक के नजदीक बस ऑपरेटर के ऑफिस में आकर मिले। पीडिता के मुताबिक वह जब इस ऑफिस में मिलने गई तो वहां मिला शख़्स उसे नजदीकी एक कुटिया के पीछे कोचिंग सेंटर में ले गया। कोचिंग सेंटर के एक कमरे में हरनामसिंह नामक इस शख्स ने उससे देर तक बातें की।फिर उसे पीने के लिए चाय दी। चाय पीते ही वह अपना होश खो बैठी।जब होश आया तब पता चला कि हरनाम ने उसके साथ दुष्कर्म किया है। हरनाम ने उसे धमकाया कि अगर किसी को कुछ बताया तो वे उसे जान से मार देगा। इस दौरान हरनाम ने विजय उर्फ विजय बुट्टर को सेठ जी के रूप में मिलवाया। हरनाम ने कहा कि सेठ जी जरूरतमंद लोगों को नौकरी देते रहते हैं। पीडि़ता बताया कि इसके कुछ दिन बाद हरनाम का फोन आया व उसे फिर मिलने के लिए कहा।उसने मना कर दिया तो हरनाम ने कहा कि उसके पास उसकी अश्लील मूवी और फोटो है, जिसे वह सार्वजनिक कर देगा।वह बदनाम हो जाएगी। देवरानी के अनुसार वह अपनी जेठानी को साथ लेकर कोडा चौक में हरनाम सिंह के बताई हुई जगह पर जाकर मिलें। वह उन दोनों को कार में बिठाकर रिद्धि सिद्धि कॉलोनी एक मकान में ले गया, जहां विजय और हरनाम ने उन दोनों के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद यह दोनों लगातार उनका देहशोषण करने लगे। पिछले दिनों जब उन्होंने दुहाई दी की कि उन्हें बख्श दिया जाए।उन पर खूब अत्याचार हुए हैं।अब और अत्याचार वे सहन नहीं कर सकते, तब हरनाम में उन्हें आकर अपनी मूवी और फोटो ले जाने के लिए कहा। जब वह दोनों हरनाम से मिली तो वह उन्हें हनुमानगढ़ रोड पर ले गया। हरनाम और विजय ने उनके साथ मारपीट की। जान से मार देने की धमकी देकर भगा दिया। यही नहीं पिछले कुछ समय से विजय और हरनाम बार-बार कह रहे हैं कि अब उन्हें उनके दोस्तों को भी खुश करना होगा। वे उन्हें अपने साथ जयपुर लेकर जाएंगे।तंग आकर उन्होंने यह रिपोर्ट पुलिस को दी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *