अल्ट्रासाउंड की नहीं है जरूरत, मोबाइल ऐप बताएगा आपके दिल का हाल

लॉस एंजिलिस। जीवनशैली में बदलाव के साथ दिल से जुड़ी बीमारियों के मामले भी बढऩे लगे हैं। इसे देखते हुए अमेरिकी वैज्ञानिकों ने ऐसा मोबाइल ऐप विकसित किया है, जिसमें लगे कैमरे की मदद से बहुत ही कम समय में हार्ट की स्थिति के बारे में पता लगाया जा सकता है। मौजूदा समय में अल्ट्रासाउंड के जरिये हार्ट के बारे में जानकारी जुटाई जाती है। इसमें तकरीबन 45 मिनट का वक्त लगता है। कैलिफोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के शोधकर्ताओं ने ऐसी तकनीक विकसित की है जो हार्ट के बायीं ओर स्थित वेंट्रीक्यूलर इजेक्शन फ्रैक्शन (एलवीईएफ) के जरिये हार्ट की स्थिति का पता लगाने में सक्षम है।कैमरे वाले एप को चालू कर गर्दन के पास रखा जाता है। यह ऐप कैरोटिड आर्टरी (गर्दन में मौजूद धमनी जिसके जरिये रक्त को शरीर के अन्य हिस्सों में भेजा जाता है) द्वारा स्किन को विस्थापित करने के आधार पर हार्ट के स्वस्थ होने या न होने का पता लगाता है।एलवीईएफ प्रत्येक बीट पर शरीर के अन्य हिस्सों में रक्त भेजने की मात्रा को बताता है। सामान्य स्थिति में यह 50 से 70 फीसद तक होता है। हार्ट के कमजोर रहने की स्थिति में प्रत्येक बीट पर पंप किए जाने वाले ब्लड की मात्रा कम हो जाती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *