तीखा खाने के हैं शौकीन तो जरूर जानिए इनसे होने वाले फायदे

तीखा और मसालेदार खाना भला किसे अच्छा नहीं लगता है। यह स्वाद तो देता है, लेकिन अक्सर आपने लोगों को यह कहते हुए सुना होगा कि मसालेदार खाने से पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।कभी कभी आपने भी ये बात देखी होगी कि मिर्च का अधिक इस्तेमाल करने से जीभ जलने लगती है, आंख और नाक से पानी आने लगता है। हालांकि, यह एक शारीरिक प्रतिक्रिया है। कई अध्ययनों में कहा गया है कि बहुत अधिक मसालेदार खाना खाने के तुरंत बाद पानी पीना गलत आदत है।जलन में राहत दिलाने के स्थान पर पानी उस तीखेपन को मुंह के दूसरे हिस्सों में फैला देता है। तीखा लगने के बाद इंसान को प्यास ज्यादा लगती है। हालांकि, यदि आप सीमीत मात्रा में मसालेदार खाना खाते हैं, तो आप इसके कई अद्भुत लाभ भी प्राप्त कर सकते हैं। जानते हैं उनके बारे में…

हृदय रोग की बीमारियों में कारगर – काली मिर्च और हल्दी वाले मसालेदार खाने को खाकर आप अपने ब्लड प्रेशर को कम कर सकते हैं क्योंकि उसमें कैप्सैसिन होता है। यह यौगिक आपके रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करने में मदद कर सकता है, जिससे ब्लड प्रेशर कम होता है। हल्दी एंटी-इंफ्लेमेट्री होती है, जो दिल की रक्षा करती है।

कैलोरी बर्न करता है – तीखा और मसालेदार खाना खाते समय आपके शरीर से पसीना निकलता है, जो अच्छी बात है। पसीना आपके शरीर के तापमान बढऩे के कारण शरीर को ठंडा रखने के लिए निकलता है यह कैलोरी को बर्न करने की वजह से निकलता है। कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि जो लोग मसालेदार खाना खाते हैं, वे तीखेपन के कारण भूख से कम खाना खाते हैं। यह वास्तव में उन लोगों के लिए प्रभावी है, जो वजन कम करना चाहते हैं।
कैंसर को रोकता हैवैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं ने पता लगाया है कि कर्कुमिन(Curcumin) कैंसर कोशिकाओं पर बहुत बड़ा प्रभाव पड़ता है। कर्कुमिन पर किए गए अध्ययनों से पता चला है कि यह वास्तव में स्तन कैंसर, पेट कैंसर के साथ-साथ कर्विकल कैंसर के जोखिम को कम कर सकता है। वहीं, प्रयोगशाला चूहों पर किए गए अध्ययन में पाया गया कि कैप्सेसिन (Capsaicin)  स्वस्थ कोशिकाओं को नुकसान किए बिना प्रोस्टेट कैंसर कोशिकाओं की संख्या में कमी करने में कारगर रहा था।
अधिक पोषक तत्व –मिर्च या काली मिर्च का भोजन नियमित रूप से आपको महत्वपूर्ण पोषक तत्व दे सकता है। इसमें विटामिन ए, विटामिन सी और अन्य आवश्यक खनिज मौजूद होते हैं। मिर्च खाने या अपने भोजन में कुछ मात्रा में काली मिर्च का इस्तेमाल करने से आपके शरीर में गर्मी बढ़ती है, जिससे चयापचय की गति बढ़ सकती है। इसलिए यदि आप कुछ वजन कम करने की योजना बना रहे हैं, तो आपको हफ्ते में कम से कम एक या दो बार मसालेदार भोजन खाना चाहिए।

मूड सही करता है – मसालेदार भोजन से जुड़ा एक और अद्भुत लाभ यह है कि यह आपके मन को खुश करता है। मिर्च और काली मिर्च में पाया जाने वाला है कैप्सेसिन और कर्कुमिन मस्तिष्क में हैप्पी हार्मोन को पैदा करने में मदद करता है, जिसे सेरोटोनिन कहा जाता है। यह वास्तव में अवसाद, चिंता और जैसे जैसे कई मानसिक समस्याओं के खिलाफ लडऩे में मदद कर सकता है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *