परिवर्तन के साथ अपने आपको ढालने से ही उज्ज्वल भविष्य-मोडाराम

 

खारिया तला में हुआ बदलते बाड़मेर का आठवां शो

बाड़मेर । समय परिवर्तनशील है, समय के साथ हमें भी बदलना चाहिये अन्यथा जीवन को व्यवस्थित नहीं चला पायेंगे, लोक कलाकारों द्वारा दर्शाए गये नाटक में यही सन्देश दिया गया है कि छोटी छोटी वस्तुओं के लिये जब मुहताज रहना पड़ता था आज सब सुविधाएं सर्व सुलभ हैं चाहे चिकित्सा हो या शिक्षा, दवाई हो या अचार सब मिलता है …यह उद्गार बीएनकेवीएस ग्रुप ऑफ थियेटर सोसायटी द्वारा चलाये जा रहे बदलते बाड़मेर की तस्वीर बयान करने वाले नाटक में सोमवार को पंचाणियों की ढाणी ग्राम के खारिया तला में मुख्य अतिथि वार्ड पंच मोडाराम ने कहे, सेवानिवृत रेलकर्मी खेमाराम की अध्यक्षता में आयोजित मरू संवाद के इस कार्यक्रम में इमरती देवी व पिस्ता देवी विशिष्ट अतिथि थे।मरू सम्वाद के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण की महत्ता प्रकट करते हुए पौधारोपण किये जाने के उपरान्त हुए कार्यक्रम में राजस्थानी लोक कलाकार भरत भाट ने कठपुतली का प्रदर्शन किया जबकि रंगमंच अभिनेत्री पूजा जोशी, संगीता मिश्रा, अभिनेता हरि प्रसाद वैष्णव, कल्याण के. विश्नोई, लक्ष्मीकान्त छैनू ने ÓÓभोपा भोपी की हथाई नाटक का मंचन किया। नाटक में ही उठाई गई ज्वलन्त समस्याओं पर आधारित प्रश्न पूछकर सही जवाब देने वाली महिलाओं में जैती, सीमा देवी, धापू, गायत्री व धापू देवी को पुरस्कृत किया गया। इससे पूर्व रविवार को राजीव गांधी सेवा केन्द्र खरिया तला में इसका मंचन किया गया था मंगलवार को सुथारों की ढाणी में इसका मंचन किया जाएगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *