कुमावत समाज की महिलाओं ने ली कन्या भू्रण हत्या व दहेज नहीं लेने की शपथ

जयपुर, 12 नवम्बर (कासं.)। सर्व कुमावत क्षत्रिय महासभा की महिला ईकाई जयपुर शहर के महिला कार्यकर्ताओं का सम्मेलन रविवार को राजधानी जयपुर स्थित बाल निवास कल्याणजी का रास्ता में आयोजित हुआ। सम्मेलन में मुख्य अतिथि उर्मिला वर्मा (राजोरिया) सेशन जज सीकर थी। विशिष्ठ अतिथि सामाजिक कार्यकर्ता उमा माचीवाल, सरला तोंदवाल, व विजयलक्ष्मी नामा रहीं।

मुख्य अतिथि उर्मिला वर्मा, सेशन जज सीकर ने समाज की महिलाओं को समाज मे फैली हुई कुरूतियों को समाप्त कर विकास के लिए आगे आने का आव्हान किया।

वर्मा (राजोरिया) ने उपस्थित सैकड़ो समाज की महिलाओं को कन्या भू्रण हत्या नही करने व दहेज न देने और न लेने की शपथ ली। सर्व कुमावत क्षत्रिय महासभा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम कुदीवाल ने बताया कि इस सम्मेलन में सभी महिलाओं को कन्या भूण हत्या नहीं करने की शपथ दिलाई गई। उन्होने कहा कि सम्मेलन में समाज विकास में महिलाओं की भागीदारी, स्वच्छ भारत अभियान में महिलाओं का योगदान, दहेज प्रथा सहित समाज में चल रही सभी अन्य कुरूतियों को समाप्त करने के लिए जागृति लाने सहित विभिन्न विषयों पर विस्तृत विचार-विमर्श किया गया। इस अवसर पर अध्यक्ष पूनम ने कहा कि महिलाओं को अपने अधिकारों के लिए एकजुट होना होगा साथ ही समाज के विकास में योगदान देना होगा। राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम कुदीवाल ने बताया कि राजस्थान में कुमावत समाज के लगभग 37 लाख मतदाता हैं परंतु दोनों ही राष्ट्रीय दल कांग्रेस व भाजपा ने इस समाज को हाशिये पर रखा हुआ हैं, जिसके चलते कुमावत समाज का राजनीति में अस्तित्व न के बराबर हैं। परंतु आने वाले विधानसभा चुनावों में कुमावत समाज प्रदेश की विभिन्न विधानसभा सीटों से अपनी दावेदारी जतायेगा और यदि दोनों प्रमुख दल कांग्रेस व भाजपा कुमावत समाज को नकारती है तो कुमावत समाज निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में उतार अपनी ताल ठोकेगा। पूनम कुदीवाल ने बताया कि सर्व कुमावत क्षत्रिय महासभा सम्मेलन में क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामेश्वर बम्बोरिया, मुख्य सलाहकार विमल कुमावत, उच्च अधिकार समिति के मुख् संयोजक सुरेन्द्र नागा सहित जयपुर शहर के महासभा के सभी वरिष्ठतम कार्यकर्ताओं ने शिरकत की।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *