दिव्यांगों के सुगम मतदान के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करे-महाजन

विधानसभा चुनाव-2018

जयपुर, 14 अक्टूबर (का.सं.)। जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी सिद्धार्थ महाजन ने जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों के रिटर्निंग अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वे चुनावों में मतदान दिवस को अपने क्षेत्र के सभी दिव्यांगों केे सुगम मतदान के लिए आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने के लिए कार्य योजना बनाए। उन्होंने कहा कि सभी रिटर्निंग अधिकारी अपने विधानसभा क्षेत्र की मतदाता सूचियों में विशेष योग्यजनों का चिह्वीकरण करे और मतदान के दिन उनको घर से बूथ पर वाहन से लाकर मतदान कराने के लिए अग्रिम तौर पर तैयारी, बूथों पर व्हील चेयर्स सहित सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करे। महाजन रविवार को जयपुर जिला कलेक्ट्रेट सभागार में आगामी विधानसभा चुनावों के सम्बंध में आयोजित बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने इसके साथ ही भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान के लिए समय पर सभी प्रकार की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश प्रदान किए। मतदान केन्द्रों के रूट्स का सत्यापन करे जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों में पोलिंग बूथ्स एवं उन तक पहुंचने के रूट का सत्यापन किया जाए। सभी सैक्टर मजिस्ट्रेट्स को भी मतदान केन्द्रों को दौरा कर रूट चार्ट तैयार करने के लिए पाबंद करे ताकि बाद में पोलिंग पार्टीज को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आए। उन्होंने सभी मतदान केन्द्रों पर बिजली, छाया, पानी और रैम्प सहित निर्वाचन आयोग के निर्देर्शों के अनुरूप आम मतदाताओं के लिए सुविधाओं के सम्बंध में निर्देश प्रदान किए। संवेदनशील क्षेत्रों पर रखे विशेष नजर उन्होंने रिटर्निंग अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने क्षेत्र में लगाए गए सभी सैक्टर्स ऑफिसर्स को क्षेत्र का सतत दौरा कर संवेदनशील और क्रिटीकल मतदान केन्द्रों एवं उनसे सम्बंधित क्षेत्रों की पहचान करने की सख्त हिदायत दे, साथ ही ऐसी सूचना जिला निर्वाचन कार्यालय एवं पुलिस के साथ साझा करे ताकि चुनावों में गड़बड़ी पैदा करने वाले, मतदाताओं को डराने, धमकाने या प्रलोभन देने वाले लोगों की पहचान कर उनके विरूद्ध निरोधात्मक कार्यवाही की जा सके। आचार संहिता की पालना की लगातार मॉनिटरिंग हो जिला निर्वाचन अधिकारी ने जिले में आदर्श चुनाव आचार संहिता की पूर्ण पालना सुनिश्चित करने के लिए सैक्टर मजिस्ट्रेट्स, विकास अधिकारी, नगरपालिकाओं के अधिशाषी अधिकारी, पटवारी, आईएलआर आदि के माध्यम से लगातार मॉनिटरिंग करने और इसका उल्लंघन पाए जाने पर कड़ी कार्यवाही करने के निर्देश दिए। बैठक में बताया गया कि व्यवसायिक साईट्स पर पोस्टर-बैनर, वाहनों पर माईक, चुनाव कार्यालय खोलने, चुनाव रथ संचालन, रोड शो एवं सभा आदि के लिए भी पूर्व में अनुमति प्राप्त करना जरूरी होगा। प्रकोष्ठों के कार्य एवं प्रगति की समीक्षा महाजन ने बैठक में विधानसभा चुनावों के लिए गठित विभिन्न प्रकोष्ठों के कार्यों की प्रगति की भी समीक्षा की और इनसे सम्बंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश प्रदान किए। उन्होंने मतदाता सूचियों के शुद्धीकरण, मतदाता पहचान पत्रों के वितरण, एसेम्बली प्लान, बूथ प्लान, कम्यूनिकेशन प्लान, थानों में लाईसेंसी हथियार जमा करने, स्वीप कार्यक्रम की गतिविधियों एवं मतगणना दिवस पर की जाने वाली व्यवस्थाओं के बारे में विस्तृत निर्देश देते हुए अब तक की प्रगति की समीक्षा की। ये रहे मौजूद बैठक में जिला परिषद के सीईओ आलोक रंजन, अतिरिक्त जिला कलक्टर-प्रथम पुखराज सैन, अतिरिक्त जिला कलक्टर-द्वितीय एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी नरेश कुमार मालव, अतिरिक्त जिला कलक्टर-तृतीय अरविंद सारस्वत, अतिरिक्त जिला कलक्टर-कोटपूतली सत्यवीर सिंह, अतिरिक्त जिला कलक्टर-पूर्व महेश नारायण शर्मा, अतिरिक्त जिला कलक्टर-दक्षिण धारा सिंह मीना, अतिरिक्त जिला कलक्टर-उत्तर कनिष्क सैनी, अतिरिक्त जिला कलक्टर-चतुर्थ हरि सिंह मीना सहित सम्बंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *