शिक्षा राज्यमंत्री ने किया अजमेर सूचना केन्द्र में राजस्थान दिवस प्रदर्शनी का अवलोकन

सरकार के कामों का आईना है प्रदर्शनी-देवनानी

जयपुर, 30 मार्च (का.सं.)। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री मंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा राजस्थान दिवस पर आयोजित प्रदर्शनी राज्य सरकार द्वारा 4 साल में कराए गए कामों का आईना है। अजमेर जिले में प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में सैंकड़ों करोड रूपए के कार्य हुए है। प्रदर्शनी अजमेर के सांस्कृतिक एवं एतिहासिक महत्व को भी रेखांकित करती है। शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री देवनानी ने शुक्रवार को महापौर धर्मेन्द्र गहलोत एवं पार्षद अनीश मोयल के साथ सूचना केन्द्र में आयोजित प्रदर्शनी का अवलोकन किया। इस अवसर पर पत्रकारों से बातचीत में देवनानी ने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में एतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहरों के संरक्षण और संवद्र्धन की दिशा में बेहतरीन काम किया है। साथ ही प्रदेश को आगे बढ़ाने के लिए हजारों करोड़ रूपए खर्च कर विकास कार्य करवाए गए हैं। यह प्रदर्शनी राजस्थान और जिले के विकास के प्रत्येक आयाम को प्रदर्शित करती है। उन्होंने कहा कि राजस्थान का शिक्षा विभाग इस तरह के एतिहासिक और सांस्कृतिक महत्व को विद्यार्थियों के समक्ष जीवित रखने के लिए प्रत्येक स्कूल में भारत दर्शन गलियारा स्थापित करने जा रहा है। जहां इस तरह की फोटो प्रदर्शनी स्थायी रूप से लगायी जाएगी। सूचना केन्द्र में भी जिले के महत्व से जुड़े फोटो ग्राफ स्थायी रूप से प्रदर्शित किए जाने चाहिए।
संग्रहालय में अजमेर दीर्घा के नाम से स्थायी रखें फोटो प्रदर्शनी : राजस्थान दिवस के अवसर पर राजकीय संग्रहालय अजमेर में चल रही फोटो प्रदर्शनी में शुक्रवार को शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने अवलोकन कर कहा कि दीपक शर्मा के चित्रों की यह एक अद्भुत प्रदर्शनी है, जिसमें अजमेर से जुड़े सभी महत्वपूर्ण स्थलों को दर्शाया गया है वही प्रकृति, सामाजिक सरोकार, सांस्कृतिक परिदृश्य व साम्प्रदायिक सौहार्द सभी दृष्टि से खूबसूरती से प्रदर्शित किया गया है। इस प्रदर्शनी को स्थाई रूप से संग्रहालय में अजमेर दीर्घा के नाम से प्रदर्शित करना चाहिए ताकि यहां आने वाले सभी पर्यटक पूरा वस्तुओं को देखने के साथ-साथ एक ही छत के नीचे पूरे अजमेर के बारे में को विस्तृत रूप से जान सके व रुचि अनुसार अन्यत्र स्थलों का भ्रमण भी कर सकेंगे। इससे अजमेर में पर्यटन के को बढ़ावा मिलेगा।उन्होंने कहा कि अजमेर में पहली बार इस प्रकार की विस्तृत जानकारी के साथ प्रदर्शनी देखने का अवसर मिला। उन्होंने इस आयोजन के लिए संग्रहालय अधीक्षक नीरज त्रिपाठी, फोटो जनर्लिस्ट दीपक शर्मा व लेखिका डॉ. पूनम पांडे को बधाई भी दी। महापौर धर्मेंद्र गहलोत में प्रदर्शनी का अवलोकन कर कहां कि इस प्रदर्शनी को देखकर लगता है की वास्तव में अजमेर बहुत ही सुंदर है और अजमेर आने वाले पर्यटकों के लिए यह प्रदर्शनी बहुत लाभकारी सिद्ध हो सकती है। उन्होंने कहा कि अजमेर की धरोहर और पर्यटन स्थलों को सहेजना व संरक्षित रखना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है, नगर निगम भी केंद्र सरकार की योजनाओं की क्रियान्विति में पूरी तत्परता से लगी है आने वाले समय में अजमेर का स्वरूप अधिक स्वच्छ व सुंदर नजर आएगा। अजमेर शहर अध्यक्ष अरविंद यादव ने फोटो प्रदर्शनी देख प्रशंसा करते हुए कहा इन तस्वीरों को देख अजमेर अंतरराष्ट्रीय स्तर का शहर नजर आ रहा है और जिसकी सबसे अधिक खूबसूरती यह है कि यहां प्राचीन इमारतें, आधुनिकरण, शिक्षा, संस्कृति इतिहास व सांप्रदायिक सौहार्द सभी अहमियत लिए हुए हैं जो कि बखूबी एक साथ दर्शाया गया है।
अजमेर पुरातत्व एवं संग्रहालय विभाग के अधीक्षक के अधीक्षक नीरज त्रिपाठी ने बताया कि अजमेर के सीनियर फोटोजर्नलिस्ट दीपक शर्मा ने इस प्रदर्शनी में अजमेर के सभी आयामों को खूबसूरती से प्रदर्शित किया, प्रसिद्ध लेखिका डॉ. पूनम पांडे सभी तस्वीरों की पर विस्तृत आलेख लिखे जिन्हें सभी आगंतुकों द्वारा सराहा गया। उन्होंने बताया कि राजस्थान दिवस के दिन पूरे दिन दर्शकों का तांता लगा रहा। दर्शक बाबूलाल छीपा ने कहा की मैंने अपने परिवार के साथ प्रदर्शनी के जरिये पहली बार अजमेर को इतनी खूबसूरती से देखा और कई नयी जानकारिया प्राप्त की। इस अवसर पर समाजसेवी राजेंद्र गांधी, पृथ्वीराज फाउंडेशन के संदीप पांडे, ऋषिराज सिंह, संजय कुमार सेठी, राजेश कश्यप, नरेंद्र शर्मा, निकिता शर्मा, आराधना भार्गव, सुनील जोशी, कुसुम शर्मा सहित अनेक गणमान्य लोग उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *