लिवर की अच्छी सेहत चाहतें हैं आज से शुरू करें ये काम

 

आज की भागदौड़ भरी जिंदगी का सबसे बुरा असर हमारे शरीर के सबसे अहम अंग लिवर पर पड़ रहा है। कोच्चि स्थित अमृता इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के विशेषज्ञों ने लिवर को दुरुस्त रखने के लिए आयुर्वेद अपनाने की सलाह दी है। विश्व लिवर दिवस पर विशेषज्ञों ने नॉन अल्कोहल फैटी लिवर की बीमारियों से निपटने के तरीके सुझाए।
यह समस्या बहुत कम मात्रा में या बिल्कुल शराब का सेवन नहीं करने वालों को भी हो सकती हैं। यह बीमारी तब होती है, जब लिवर की कोशिकाओं में काफी मात्रा में फैट जमा हो जाती है। इसके खतरों को कम करने के लिए आयुर्वेद का सहारा लेना बेहतर होगा। डॉक्टर हर्षवर्धन राव बी. ने इसके लिए आसान से उपाय सुझाए हैं। डॉ. राव अमृता संस्थान में गैस्ट्रोएंट्रोलॉजी और हेपेटोलॉजी विभाग में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं।
हेल्दी डायट चुनें
फल, सब्जियों, साबुत अनाज और स्वस्थ वसा से भरपूर आहार लेना बेहतर होगा।
वजन पर नियंत्रण रखें
अगर आप का वजन काफी ज्यादा है, तो रोज आप जितनी कैलोरी खा रहे हैं, उस पर निगरानी रखनी होगी। साथ ही व्यायाम या शारीरिक सक्रियता बढ़ानी चाहिए।
तीखी चीजों से दूर रहें
आयुर्वेद के मुताबिक पाचन और चयापचय के लिए शरीर में कई तरह के एंजाइम्स पाचन में मदद करते होते हैं, जिन्हें अग्नि और पित्त कहा जाता है। देखा जाए तो लिवर एक अपने आप में एक उग्र अंग है। इस हिसाब से कोई भी खाने वाली चीज जो काफी तीखी या जलन पैदा करने वाली है, वो लिवर के लिए अच्छी नहीं है।
आयुर्वेद का इस्तेमाल लिवर को सुधारने में कैसे करें
जीवा आयुर्वेद के डॉ. प्रताप चौहान का कहना है कि लिवर की एक खूबी होती है, कि वह खुद को दुरुस्त कर सकता है। इसलिए हमें सिर्फ उसे उग्र खाद्य पदार्थों और केमिकल से दूर रखना है, ताकि वह साफ और शांत बना रहे। शराब, कैफीन, तंबाकू और तीखा मसालेदार खाना और बाजार में बिकने वाली पैकेट बंद खाने की चीजों में मौजूद केमिकल भी लिवर को उग्र बनाते हैं।
यूं रखें लिवर को शांत व स्वस्थ
आयुर्वेद के मुताबिक अलोए वेरा, नीम, करेला, आंवला, हल्दी जैसी कई अन्य चीजें लिवर की सुरक्षा करती हैं। हरी पत्तेदार सब्जियां, चुकंदर, गाजर और सेब भी लिवर के लिए अच्छे बताए गए हैं।
लिवर से यूं निकाले विषैले तत्व बाहर
एक कप पानी में एक चुटकी हल्दी डालकर कुछ मिनट तक उबालें, जब पानी ठंडा हो जाए, तो उसमें एक चम्मच नींबू का ताजा रस डालें। अगर जरूरत हो तो एक चम्मच शहद भी डाल सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *