युवकों में फिल्मी स्टाइल में मारधाड़, तनाव फैला

fight between two youth grops in filmy style

कृष्णा टाकिज के पास हुुई झड़प, कईं चोटिल

श्रीगंगानगर, 3 मार्च (नि.स.)। स्थानीय जवाहरनगर थाना के समीप इंदिरा चौक के साथ लगते वाल्मीकि मोहगे में शुक्रवार को होली के दिन युवकों के बीच पुरानी रंजिश को लेकर दिनभर खींचतान चलती रही, जो रात लगभग साढ़े 7 बजे हिंसक झड़प में तब्दील हो गई। कृष्णा टाकिज के गेट के सामने वाली मेन रोड पर युवकों के दो गुटों के बीच जमकर पत्थरबाजी ही नहीं हुई, बल्कि एक-दूसरे पर कांच की बोतलें भी पूरी रफ्तार से फेंकी गईं। गेट के सामने वाले वाल्मीकि मोहगे के लोगों में इस झड़प से दहशत फैल गई। उस समय मोहगे के लोग दिनभर होली का पर्व मनाने के बाद शाम को नहा-धोकर गली में बाहर बैठे बातचीत करते थकान उतार रहे थे। एकाएक आये हुए युवकों में झड़प हो गई। दहशत के मारे लोग अपने घरों में जा छिपे। पत्थरबाजी-बोतलें फेंकने की चपेट मेें आया एक युवक गम्भीर रूप से घायल हो गया। सफाई कर्मचारी नेता प्रेम भाटिया के भांजे टीटी के सिर में पत्थर या बोतल लगी, जिस पर उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया। लोगों ने तुरंत ही पुलिस को सूचना दी। कुछ ही देर में जवाहरनगर थाना, केातवाली और पुरानी आबादी थानों की पुलिस पूरे लवाजमे के साथ पहुंच गई। पुलिस कंट्रेाल रूम और पुलिस लाइन से भी जाब्ता भेजा गया। मेन रोड पर पत्थर ही पत्थर और टूटी हुई बोतलों के कांच पड़े थे। इस घटनाक्रम को लेकर मौके पर पहुंचे पूर्व सभापति श्याम धारीवाल, कर्मचारी नेता प्रेम भाटिया, पूर्व पार्षद हरबंस वाल्मीकि आदि वाल्मीकि समाज के लोगों ने मामले को शंात किया। दोनों गुटों में शामिल युवकों के परिवार वालों को बुलाकर समझाइश भी की। इसी बीच एक एएसआई ने पूरी बात को बिना समझे एक पक्ष के लोगों को दबाना-धमकाना शुरू कर दिया, तो लोग भड़क उठे। उन्होंने इस एएसआई को जमकर झाड़ा। बाद में पुलिस अधिकारियों ने बड़ी मुश्किल से इस बात को सम्भाला। मौके पर पुलिस जाब्ता को देर रात तक तैनात रखा गया। पुलिस ने दोनों पक्षों को जवाहरनगर थाने में बुालकर समझाइश भी की। मोहगवासियों के अनुसार युवकों के दोनों गुटों मेें पिछले काफी समय से किसी पुरानी रंजिश को लेकर खींचतान चली आ रही है। होली के दिन कल सुबह से ही यह युवक एक-दूसरे को टेढ़ी नजरों से देख रहे थे, जो शाम को खुलेआम झगड़ा कर बैठे। पुलिस ने शांति व्यवस्था भंग करने के जुर्म में बंटी पुत्र हंसराज वाल्मीकि, शिवा पुत्र संजय वाल्मीकि, दीपक और उसके पिता मनोहरलाल वाल्मीकि को धारा 151 में गिरफ्तार किया है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *