पांच बदमाशों ने कार चालक सहित दो जनों को अगवा कर छह लाख रुपए लूटे

श्रीगंगानगर, 12 अप्रैल (का.सं.)। चुरू में पांच बदमाशों ने एक व्यक्ति को उसकी कार के चालक सहित अगवा कर लिया उससे 6 लाख रुपए, सोने की अंगूठी और मोबाइल फोन लूटकर फरार हो गए। चूरू में कोतवाली थाना क्षेत्र में गुरुवार रात को हुई इस वारदात को अंजाम देने वाले लुटेरों को पकडऩे के लिए रात भर पुलिस ने इलाके में कड़ी नाकाबंदी की। वाहनों की चेकिंग का अभियान चलाया लेकिन बदमाशों को पकड़ा नहीं जा सका। चूरू कोतवाली प्रभारी नरेश गेरा ने बताया कि हरियाणा के समीपवर्ती हिसार जिले में आदमपुर मंडी निवासी सुंदरलाल (32) पुत्र ओमप्रकाश जाट द्वारा दिए गए बयानों के आधार पर पांच अज्ञात व्यक्तियों पर मामला दर्ज किया गया है। सुंदरलाल जाट ने पुलिस को बताया है कि वह किसी काम से रुपए लेकर जयपुर गया था। वहां काम नहीं होने पर गुरुवार दोपहर बाद 3:30 बजे वह वापस आदमपुर के लिए रवाना हो गया। रात 8 बजे वह चूरू में बाईपास रोड पर पहुंचा। सुंदरलाल लाल के अनुसार अचानक उसका जी घबराने लगा। उसने उल्टी करने के लिए गाड़ी रुकवा ली। जब वे गाड़ी रोक कर खड़े थे,तभी एक अन्य गाड़ी में पांच व्यक्ति आये, जिनके पास पिस्तौल इन थींं। इन बदमाशों ने उसे उसकी ही गाड़ी में पीछे की सीट पर बीच में बिठा लिया।दो बदमाश उसके अगल बगल में बैठ गए। उसकी गाड़ी के चालक अमित को आगे की सीट पर बैठा लिया और एक बदमाश ड्राइविंग सीट पर बैठ गया। पिस्तौल दिखाकर उन्हें चुप रहने की धमकी दी। इसके बाद भी उसकी गाड़ी को नजदीक झाडिय़ों की तरफ ले गए। वहां ले जाकर उनमें से एक बदमाश ने उसके इंजेक्शन लगा दिया।उसका रूपयों का बैग अपने कब्जे में कर लिया। उसकी पहनी हुई सोने की अंगूठी उतरवा ली। उसका पर्स और मोबाइल भी छीन लिया। इसके बाद बदमाशों ने कुछ दूरी पर आगे ले जाकर छोड़कर भाग गए। उनकी गाड़ी की चाबी अपने साथ ले गए ।सुंदरलाल ने बताया कि बैग में 6 लाख रुपए थे।थाना अधिकारी के अनुसार महज 15 मिनट में यह वारदात हो गई। सुंदरलाल को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। वह पूरी तरह होश में था। गाड़ी के चालक अमित से पूछताछ की गई तो उसने इस पूरी घटना की पुष्टि की है। थाना अधिकारी के अनुसार अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि सुंदरलाल 6 लाख रुपये किस काम के लिए जयपुर लेकर गया था। वह कभी तो बताता है कि उसकी कोई नौकरी लगने वाली थी। इसलिए लेकर गया था। कभी वह कहता है कि उसने जयपुर के एसएमएस हॉस्पिटल में अपनी पथरी का इलाज करवाना था। थाना अधिकारी के अनुसार सुंदरलाल फर्जीवाड़े के मामले में पूर्व में पकड़ा जा चुका है, जिसके तहत जेल में अभी 4 महीने पहले ही वह जेल से छूटकर आया है। इस घटना की सत्यता की भी पुलिस जांच पड़ताल कर रही है। मामला धारा 382 व अन्य धाराओं के तहत दर्ज किया गया है के तहत दर्ज किया गया।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *