सीतामाता एवं जयसमन्द अभ्यारण्यों का होगा विस्तार-खींवसर

जयपुर, 13 सितम्बर (का.सं.)। वन मंत्री गजेन्द्र सिंह खींवसर की अध्यक्षता में राज्य वन्यजीव मण्डल की बैठक गुरूवार को आयोजित हुई। जिसमें सीतामाता के समीपस्थ वन क्षेत्र के 210.87 वर्ग किलोमीटर तथा जयसमन्द अभ्यारण्य के 32 वर्ग किलोमीटर विस्तार की स्वीकृति दी गई। अभ्यारण्य के विस्तार से स्थानीय लोगों को वन-धन योजना का लाभ मिलेगा। बैठक में 24 विभिन्न परियोजनाओं जिसमे प्रधानमंत्री भारतनेट की महत्वपूर्ण योजनाए, करौली जिले में करणपुर-मण्डरायल एवं बहरावण्डा-खण्डार-बालेर- करणपुर सड़के, रक्षा मंत्रालय के माउन्ट आबू में स्पेक्ट्रम डिफेंस प्रोजेक्ट, रेलवे की ह्रस्नष्ट एवं आर्क ब्रिज कार्य औद्योगिक क्षेत्र कोटा के विस्तार आदि महत्वपूर्ण योजनाओं की वन्यजीव स्वीकृति प्रदान की गई। बैठक में ही वन मंत्री द्वारा नाहरगढ़ बायोलोजिकल पार्क मे स्थित लायन सफारी का उदघाटन किया गया। यह लायन सफारी 36 हैक्टर क्षेत्र में स्थित है, जिसमें पर्यटकों को खुले क्षेत्र में विचरण कर रहे शेरों को एक क्लोजर में दर्शनार्थ रखा जायेगा। यह लायन सफारी पार्क अक्टूबर 2018 में वन्यजीव सप्ताह में पर्यटकों के दर्शनार्थ खोला जायेगा। यहां वाहन में बैठकर शेरों को नैर्सेगिक एवं प्राकृतिक स्थिति में स्वछन्द विचरण करते हुये देखा जा सकेगा। लायन सफारी से जयपुर सहित देश के अन्य क्षेत्रों एवं विदेशी पर्यटकों को भ्रमण का लाभ मिलेगा। इससे वन्यजीव संरक्षण के सम्बन्ध मे जागृति उत्पन्न होगी। बैठक में मुख्य सचिव डी.बी. गुप्ता, प्रमुख शासन सचिव वन, कुलदीप रांका तथा वन विभाग के अधिकारियों के अतिरिक्त राज्य वन्यजीव मण्डल के सदस्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *