नवरात्र के समय फलहार में बनाएं कूटे के आटे का चीला और फ्राई आलू

अक्सर नवरात्र में लोग व्रत रहते हैं तो उन्हें समझ नहीं आता है कि क्या बनाए। ज्यादातर लोग सिर्फ आलू फ्राई कर लेते हैं और काम चल जाता है। लेकिन अब आपको सिर्फ आलू खाने की जरूरत नहीं है। आप फ्राई आलू के साथ कूटू के आटे का चीला भी फलहारी में ले सकते हैं जो काफी स्वादिष्ट लगता है और पूरे दिन के व्रत के बाद आपको अच्छा भी लगेगा। आइए आपको बताते हैं फ्राई आलू और कूटू के आटे का चीला बनाने की विधि-
फ्राई आलू बनाने की विधि-
आलू फ्राई करने के लिए आप छोटे आलू हों तो आलू साबुत ही फ्राई कर सकते हैं। यदि आलू बड़े-बड़े हैं तो उनके 4 या 6 टुकड़े कर के फ्राई किये जा सकते हैं। इसके लिए बड़े 6-7 मीडियम आकार के आलू अच्छी तरह धोकर उबाल लें फिर ठंडा करके छील लें। अब तेल कढ़ाई में डालें, गरम तेल में आलू डाल कर हल्के ब्राउन होने तक तल कर प्लेट में निकाल लें. एक टेबल स्पून तेल बचाकर, अतिरिक्त तेल निकाल दें। अब गरम तेल में जीरा डाले, जीरा तड़कने के बाद आलू, नमक और आधा छोटी चम्मच काली मिर्च डाल कर आलू 2-3 मिनिट तक भूने. हरा धनियां और एक नीबू का रस डाल कर मिलाएं। लीजिये व्रत के लिये आलू तैयार हैं। स्वादिष्ट आलू परोसिये और खाइये। इसके अलावा अगर आपको तेल नहीं पसंद है तो आलू को तले बिना ही बनाइये। कढ़ाई में 1 टेबल स्पून तेल डाल कर गरम कीजिये, गरम तेल में जीरा डालिये, जीरा तड़कने के बाद आलू, नमक और काली मिर्च डाल कर आलू 2-3 मिनिट तक भूने। गैस बन्द कर दीजिये, हरा धनियां और नीबू का रस डाल कर मिलाइये। व्रत के लिये आलू तैयार हैं। स्वादिष्ट आलू

परोसिये और खाइये.
कूटू के आटे का चीला- कूटू के आटे से व्रत के लिये तरह तरह के व्यंजन बनाये जाते हैं। कूटू के आटे के चीला बहुत अच्छे बन जाते हैं। इसके लिए 100 ग्राम (आधा कप) कूटू का आटा छान कर किसी बर्तन में निकाल ले, 200 ग्राम अरबी धोकर उबाल ले। अरबी को छील कर, कद्दूकस करके, मैस कर ले। कूटू के आटे में मिलाइये, थोड़ा थोड़ा पानी डाल कर, आटे को घोलते जाइये, गुठलियां नहीं पडऩी चाहिये। घोल को अधिक गाड़ा और अधिक पतला मत कीजिये। घोल को 15 मिनट के लिये ढककर रख दे। घोल में 1 छोटा चम्मच नमक, आधा छोटा चम्मच काली मिर्च और एक टेबल स्पून कतरा हुआ हरा धनियां मिला ले।अब तवा गैस पर गरम करें, एक बड़ा चमचा घोल तवे पर डालिये और चमचे से गोल-गोल चलाते हुये पतला चीला फैला लें। चीले की नीचली सतह ब्राउन होने तक सेक कर पलट दे। दूसरी तरफ भी ब्राउन होने तक सेके। चीला तवे से उतार कर प्लेट में रखी कटोरी के ऊपर रखिये। सारे चीले इसी तरह बनाकर तैयार कर ले। कूटू के चीले तैयार हैं इन्हें आप गरम-गरम फ्राई आलू या दही के साथ खाए।
फलों का रायता-इस दौरान फल का रायता भी अच्छा ऑप्शन है। फलों का रायता बनाएं, यह बड़ा ही स्वादिष्ट और तरोताजा करने वाला होता है। फलों का रायता अगर खाने के साथ है तो सच में खाने का स्वाद और पाचन दोनों ही बड़ जायेंगे।
इन फलों का करें इस्तेमाल-
केला – 1 (मोटे गोल टुकड़े में काट लें)
सेब – 1 ( छील कर छोटे छोटे टुकड़े में काटें)
अंगूर – 40-50 (डंठल तोड़े)
खरबूजा – 1 कप( छोटे छोटे टुकड़े कटे हुये)
दही 400 ग्राम (2 कप) को 100 ग्राम मलाई और 2-3 टेबल स्पून चीनी मिला कर फैट ले। सारे तैयार फल दही में मिला ले। 2 इलायची छील कर बारीक कूट लीजिये रायते में मिला दे। रायते को ठंडा होने के लिये फ्रिज में रख दे। फलों का रायता तैयार है, ठंडा खुशबू दार रायता परोसिये और खाइए। फलों का रायता बनाने के लिये आप अपने मन पसन्द कोई भी फल ले सकते हैं और कोई भी हटा सकते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *