अराई आंदोलन में पहुंचे किसान नेता गंगानगर व हनुमानगढ़ की समस्याएं उठाईं

श्रीगंगानगर, 9 अक्टूबर (नि.स.)। प्रदेश मेें किसानों के 39 किसान संगठनों द्वारा सामूहिक रूप से किसानों की समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर चलाये जा रहे आंदोलन के तहत रविवार को अराई (अजमेर) जिले में किसानों की एक बड़ी सभा का आयोजन किया गया। इस सभा में श्रीगंगानगर जिले से रायसिंहनगर की विधायक सोनादेवी बावरी, गंगानगर किसान समिति के संयोजक और किसान बचाओ-देश बचाओ मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष रणजीतसिंह राजू, किसान नेता प्रो. ओम जांगू, सूरतगढ़ से सत्यप्रकाश सिहाग तथा राजू ‘ााट सहित इस इलाके के अनेक किसान नेता पहुंचे। इन नेताओं ने इस विशाल जनसभा में श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ जिले के किसानों की समस्याएं रखीं। इन समस्याओं के निराकरण होने तक संघर्ष जारी रखने का ऐलान किया। संयोजक रणजीत सिंह राजू ने बताया कि इस सभा में किसान नेताओं ने एकजुट होकर बड़ी मजबूती के साथ किसानों से जागृत होने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि संविधान में मिले हुए हकों के प्रति जागरूक होकर ही इन्हें हासिल किया जा सकता है। साथ ही संगठित होने का भी उन्होंने आह्वान किया। वक्ताओं ने कहा कि राजनीतिक पार्टियों ने हमेशा ही किसानों को लूटा है। उद्योपगतियों और उनके घरानों को दिया ही है। एक भारत में दो भारत बसे हुए हैं। गांव या गांव में रहने वालों की बात तक नहीं होती। सरकारें मात्र बड़े लोगों के लिए ही काम करती हैं। उनका ही संरक्षण करती हैं। किसान नेताओं ने कहा कि हमें संगठित हेाकर इन राजनीतिक दलों के नकेल डालनी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि कुछ ही दिनों में अजमेर लोकसभा क्षेत्र के चुनाव होने हैं। इस कारण प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और उनकी पूरी सरकार ने कईं दिनों तक अजमेर जिले में डेरा डाले रखा। अलग-अलग समाज के लोगों से बैठकें कर मुख्यमंत्री वोट मांग रही हैं। उन्हें अब इन लोगों से बात करना याद आया है। रणजीत सिंह राजू ने बताया कि इस सभा में आह्वान किया गया कि किसान जागें। सरकार उनके पास वोटों की भीख मांगने के लिए आने वाली है। सरकार उनके द्वार पर आये तो उनसे यह सवाल अवश्य पूछे जायें कि किसानों को उनकी फसल की डेढ़ गुणा कीमत मिली है या नहीं? उनके घोषणापत्र के अनुसार युवाओं को रोजगार, लोगों को पीने का साफ पानी मिला है या नहीं। इस सम्बंध में पूर्व मंत्री एवं विधायक घनश्याम तिवाड़ी, विधानसभा की पूर्व अध्यक्ष सुमित्रा सिंह, किसान बचाओ-देश बचाओ मोर्चा के संयोजक पंकज धनकड़, पूर्व विधायक नारायण बेहड़ा, किसान नेता राजेन्द्र फौजी, रामनारायण चौधरी, राधेश्याम गोदारा ने भी सम्बोधित किया। श्रीगंगानगर जिले से तरणजौत बराड़, पवन श्यामगढ़ आदि गंगानगर किसान समिति से जुड़े पदाधिकारी व कार्यकर्ता भी पहुुंचे। अन्नाराम सरपंच, रियाबड़ी, गोवर्धन सरपंच निमाज, नंदकिशोर किसान नेता कुचामन सिटी, श्रीराम मकराना, रामकुमार मेड़ता आदि अपनी टीमों के साथ इस आंदोलन में पहुंचे। किसान नेताओं ने आवाज बुलंद की कि किसानों को न केवल उनकी फसल का डेढ़ गुणा मूल्य दिलाया जाये, बल्कि उन्हें कर्ज से भी मुक्ति दी जाये। फसल बीमा योजना में प्रीमियम के नाम पर लूट, फसल बीमा के क्लेम मेें अड़चने, आवारा पशुओं की समस्या, फसल खरीद के लिए गारंटी कानून बनाने आदि के मुद्दे भी इस सभा में उठाये गये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *