बीमार पुलिसकर्मियों को सवा आठ लाख की सहायता

लम्बे समय से उपचाराधीन है दो सिपाही

श्रीगंगानगर, 27 सितम्बर (का.सं.)। जिला पुलिस के लम्बे समय से बीमार चल रहे दो कर्मचारियों को करीब सवा आठ लाख की सहायता प्रदान की गई है। यह सहायता राशि जिला पुलिस विभाग के सभी कर्मचारियों तथा अधिकारियों द्वारा दिये गये एक दिन के वेतन से जुटाई गई है। गुरुवार को पुलिस अधीक्षक गौरव यादव तथा अवर एसपी सुरेन्द्र सिंह राठौड़ ने दोनों पुलिसकर्मियों के परिवार वालों को सहायता राशि के चैक प्रदान किये। डीएसपी (शहर) तुलसीदास पुरोहित ने बताया कि सिपाही सुभाष के परिवारजनों को सात लाख रुपये तथा सिपाही मनोज कुमार के परिवारजनों को एक लाख 30 हजार की सहायता राशि दी गई है। कुल 8 लाख 30 हजार रुपये एक दिन के वेतन से एकत्रित हुए थे। उन्होंने बताया कि नोहर-भादरा क्षेत्र का मूल निवासी सिपाही सुभाष लगभग 3 वर्ष से कोमा में है। वह पिछले पंचायत चुनाव के दौरान अकस्मात बीमार हो गया था। वह चुनाव ड्यूटी में हिन्दुमलकोट क्षेत्र में गया था। ड्यूटी करके वापिस आने पर वह बीमार पड़ गया। तब से वह कोमा में है। अब तक परिवार वाले लगभग 40 लाख रुपये उसके इलाज में खर्च कर चुके हैं। वह अभी तक ठीक नहीं हुआ है। यही नहीं सुभाष के कोमा में होने के कारण उसका वेतन भी नहीं बन पा रहा। इसके लिए उसकी पत्नी ने कोर्ट में याचिका लगाई थी। उसकी याचिका को खारिज कर दिया गया था, जिसके विरुद्ध उसने हाईकोर्ट में अपील लगाई। सुभाष के सम्बंध में जिला पुलिस अधीक्षक को आदेश प्राप्त हुए हैं कि वे एसएमएस हॉस्पीटल जयपुर के विशेषज्ञों डॉक्टरों का बोर्ड गठित करवाकर उसकी रिपोर्ट लें। इस रिपोर्ट के आधार पर कोर्ट आगे निर्णय करेगी। सिपाही मनोज विगत मई माह मेें एक सड़क हादसे में गम्भीर घायल हो गया था, जोकि लुधियाना में उपचाराधीन है। उसके इलाज पर भी काफी खर्चा हो रहा है। इसीलिए उसके परिवार वालों को भी सहायता दी गई है। डीएसपी ने बताया कि जिला पुलिस विभाग द्वारा इन दोनों पुलिसकर्मियों को और सहायता राशि दिये जाने के सम्बंध में जयपुर पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों से अनुशंसा की गई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *