देश का माहौल खराब करने के लिए सरकार दोषी : कांग्रेस

 

नयी दिल्ली, 6 सितम्बर (एजेंसी)। कांग्रेस ने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की कड़ी भत्र्सना की तथा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि यह घटना इस बात की भयावह याद दिलाती है कि ”असहिष्णुता और कट्टरता हमारे समाज में अपना सिर उठा रही है। पार्टी ने साथ ही कहा कि संप्रग के 10 साल के शासनकाल में ऐसी कोई घटना नहीं हुई जबकि 2014 में केन्द्र में भाजपा सरकार के आने के बाद से पानसरे, दाभोलकर, कलबुर्गी के बाद अब लंकेश गौरी को उनके स्वंतत्र विचारों के कारण निशान बनाया गया। पार्टी ने कहा कि 2014 के बाद से देश में असहिष्णुता और भय का जो माहौल बनाया गया है, उसके कारण यह घटनाएं हो रही हैं। सोनिया के पुत्र एवं पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी, वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम एवं पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने भी बेंगलुरू में वरिष्ठ पत्रकार की कल की गई हत्या की निंदा की और कहा कि सच्चाई को कोई दबा नहीं सकता।कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने संवाददाताओं को बताया कि सोनिया और राहुल ने इस घटना को लेकर कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया से बातचीत की और दोषियों को पकडऩे के लिए यथासंभव कदम उठाने को कहा। मुख्यमंत्री ने उन्हें बताया कि राज्य पुलिस ने इस मामले की जांच के लिए पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) के नेतृत्व में विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया है। साथ ही राज्य भर में दोषियों की तलाश के लिए तीन पुलिस टीम गठित की गयी हैं। सोनिया ने गौरी को एक ऐसी पत्रकार बताया जो निडर थी और अपने स्वतंत्र विचार रखती थीं, जो व्यवस्था के खिलाफ खड़े होने के लिए दृढ़संकल्प थीं। सोनिया गांधी ने एक बयान में कहा, ”देश में तर्कवादियों, स्वतंत्र सोच रखने वालों और पत्रकारों की हत्या की कई घटनाओं ने ऐसा माहौल पैदा कर दिया है कि असंतोष, वैचारिक मतभेद और विचारों को लेकर असहमति आपकी जान को खतरे में डाल सकती है। इसे सहन नहीं किया जा सकता और इसे सहन नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ”यह हमारे लोकतंत्र के लिए अत्यंत दु:खद क्षण हैं और यह घटना सचेत करती है कि असहिष्णुता और कट्टरता हमारे समाज में अपना सिर उठा रही है। सोनिया ने कहा कि पार्टी इस हमले की निंदा करने में तर्कवादियों, विचारकों, पत्रकारों और मीडिया जगत के साथ खड़ी है। सोनिया गांधी ने कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धरमैया से बात की और उनसे अपराधियों को न्याय के कठघरे में लाने की दिशा में तेजी से कदम उठाने की अपील की। उन्होंने कहा, ”राज्य में सुरक्षित माहौल बनाए रखने के लिए हर संभव कदम उठाया जाना चाहिए। कांग्रेस अध्यक्ष ने गौरी के परिवार के प्रति गहरी सहानुभूति जताई।राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्हें ”दक्ष हिंदूवादी नेता करार दिया और कहा कि वह जो बोलते हैं, उसका उनके अपने लोगों के लिए कुछ मतलब होता है और दुनिया के लिए कुछ और। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा, ”सच को कभी दबाया नहीं जा सकता। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा की विचारधारा सच को दबाने की कोशिश कर रही है, लेकिन भारत में यह नहीं हो सकता। इस मुद्दे पर मोदी की चुप्पी के बारे में पूछने पर राहुल ने कहा, ”पूरी विचारधारा ही आवाजों को चुप करा देने की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *