राज्यपाल ने अपने कक्ष की सफाई कर अभियान का किया राज्यव्यापी आगाज

राजभवन के अधिकारी व कर्मचारी स्वंय साफ करेंगे अपना कार्यालय
जयपुर, 15 सितम्बर (कासं)। राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह ने शुक्रवार को यहां राजभवन में अपने कक्ष की स्वयं सफाई करके प्रदेश में ”स्वच्छता ही सेवा” कार्यक्रम का नये अंदाज में राज्यव्यापी शुभारम्भ किया। स्वच्छ भारत मिशन की तीसरी वर्ष गांठ के अवसर पर आरम्भ ”स्वच्छता ही सेवा” को स्वच्छता के लिए त्वरित जन आंदोलन बनाये जाने के लिए राज्यपाल ने प्रदेशवासियों का आव्हान किया। राज्य में यह कार्यक्रम 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक चलेगा। इस मौके पर सिंह ने राज्य के सरकारी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सलाह दी है कि इस अभियान के दौरान वे अपने कार्यालय में समय से दस मिनट पहले पहुंचकर अपने कक्षों व कार्यालय की स्वयं सफाई करें।
राजभवन के समस्त अधिकारियों व कर्मचारियों ने राज्यपाल की इस पहल का स्वागत करते हुए यह सकंल्प लिया है कि वे प्रतिदिन कार्यालय समय से दस मिनट पहले पहुचेंगे और अपने बैठने के स्थान की सफाई स्वंय करेंगे। राज्यपाल ने राज्य की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, राज्य मंत्री मण्डल के सदस्यगण, राज्य के सांसदगण, विधायकगण और राज्य विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को ”स्वच्छता ही सेवा” कार्यक्रम को जन आन्दोलन बनाने में सकारात्मक योगदान देने के लिए शुक्रवार को पत्र भेजे हैं। सिंह ने पत्र में कहा है कि ”इस स्वच्छता ही सेवा अभियान को सफल बनाने की दृष्टि से आपसे अनुरोध है कि आप अभियान अवधि में विभिन्न स्वच्छता संबंधी गतिविधियां आयोजित करावें। शौचालय निर्माण कार्यों में सहायता व श्रमदान गतिविधियां भी अभियान की सफलता हेतु वांछनीय हैं। स्वच्छता संबंधी गतिविधियों को आम जन तक पहुंचाने का प्रयास विशेष रूप से अपेक्षित है ताकि अभियान में सक्रिय जन भागीदारी सुनिश्चित हो सके। ” उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 अगस्त को ”मन की बात” कार्यक्रम में 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक ”स्वच्छता ही सेवा” अभियान हेतु राष्ट्र का आह्वान किया था, जिसका मुख्य उद्देश्य समाज में स्वच्छता का वातावरण निर्माण किया जाना है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *