ग्रोमो का राजस्थान में एक लाख लोगों को सुक्ष्म उद्यमी बनाने का लक्ष्य

जयपुर, 12 अक्टूबर (एजेन्सी)। भारत के वित्तीय उत्पाद वितरण क्षेत्र में तेजी से बढती और अपनी पहचान बनाने वाली कंपनी ग्रोमो ने राजस्थान में जयपुर और अलवर में भी अपनी सेवाओं के आगाज के साथ प्रदेश में अपने विस्तार के लक्ष्य को हरी झंडी दिखा दी है। ग्रोमो के सीईओ अंकित खण्डेलवाल के अनुसार ग्रोमो एक फिनटेक मार्केटप्लेस का संचालन करता है जो किसी भी व्यक्ति को ग्रोमो पार्टनर के रूप में वित्तीय उत्पाद बेचने और आय अर्जित करने की सुविधा प्रदान करता है। आंकड़ों के अनुसार, फिलहाल 2019 में राजस्थान में 6 लाख से अधिक बेरोजगार व्यक्ति हैं, जिनमें से अकेले जयपुर में यह संख्या करीब 60,000 है। ग्रोमो का लक्ष्य राजस्थान में लगभग 1 लाख लोगों को सूक्ष्म उद्यमी बनने में मदद करने का है जो मासिक तौर पर 50,000 रूपये तक कमा सकें। ग्रामो के सीईओ, अंकित खंडेलवाल ने कहा कि हमारा उद्देश्य राजस्थान में 1,00,000 सूक्ष्म-उद्यमी को बनाने का है, जो रोजगार हासिल करने के साथ ही साथ लोगों को आसानी से लोन हासिल करने में सहायता प्रदान कर लोगों के बीच अपनी एक पहचान भी स्थापित कर सकेंगें। इस बीच हम राजस्थान में लाखों सूक्ष्म उद्यमियों को बनाने के लिए स्टार्टअप इंडिया कार्यक्रम के तहत काम करने को लेकर भी काफी उत्साहित हैं।ग्रोमो टियर 2 और टियर 3 शहरों में ग्रोमो पार्टनर अपने रोजमर्रा के कामकाज या अपनी पारंपरिक जॉब्स जैसे कि किराना दुकान के मालिक, बिक्री अधिकारी, सेवानिवृत्त कर्मचारी या यहां तक छात्र तक इस प्लेटफॉर्म से जुड और वित्तीय उत्पादों को बेच, बहुत ही आसानी के साथ 50,000 रुपये प्रति महीनें की कमाई कर सकतें हैं। दरसल इस ऋण सुविधा की पेशकश के जरिये ग्रोमो पार्टनर्स प्लेटफॉर्म के माध्यम से कमाई के साथ साथ टियर 2 और टियर 3 बाजारों में लोगों की लोन संबंधी जरूरतों को भी पूरा करते हैं। ऐसे शहरों में अक्सर लोग कभी कम जटिल प्रक्रिया इत्यादि के चलते लोन को लेकर काफी परेशान नजर आते हैं। और उनके लिए इस प्रक्रिया को आसान बनाने के साथ ही साथ उचित सलाह देने वाला भी कोई नहीं होता। ऐसे में ग्रोमो पार्टनर्स प्लेटफॉर्म की शानदार तकनीक का इस्तेमाल कर लोगों की इस परेशानी का बडी सरलता से हल निकालने में मदद करते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *