जलदाय विभाग ने काटा नल कनेक्शन तो भडके लोगों ने एक परिवार पर किया हमला

आधा दर्जन लोगों ने एक परिवार पर हमला कर दो महिलाओं को किया लहूलूहान

किशनगढ़बास (अलवर)। समीपवर्ती ग्राम इस्माईलपुर में पेयजल कनेक्शन क लेकर गांव के ही कुछ लोगों ने एक परिवार पर हमला कर दिया जिससे दो महिलाए गम्भीर रूप से घायल हो गई। प्राप्त जानकारी अनुसार गांव इस्माइलपुर निवासीं किशनचंद पुत्र श्री भीमा राम जाति जाटव ने थाने में शिकायत देकर बताया कि उसके मकान के सामने गांव के ही कमाल और गुलाब दोनो पेयजल सप्लाई का गड्ढा खोदने के लिए आए तो मेरे पूछने पर उन्होने कहा कि नल का कनेक्शन लेना है। जिसपर उसने कहा कि भाई तुम्हारे घर के सामने से लाइन जा रही है उसमे से कनेक्शन ले लो। इतना कहने पर ही उन्होंने गाली-गलौच कर मारने पर उतारू हो गए। जिसको लेकर उसने जलदाय विभाग क इस बारे में सूचना दी। जलदाय विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंच कर जांच की तो वहां अवैध कनेक्शन पाया गया तथा उस कनेक्शन को विभाग द्वारा काट दिया गया। जब यह कनेक्शन काटा तो उसे गांव के ही सतीश पुत्र मुंशीराम ने फोन पर जान से मारने की धमकी दी। जिसको लेकर रविवार की रात्रि करीब 8 बजे सतीश ने कॉल कर पूछा कि कहां पर हो इसपर उसने किशनगढ़बास से घर आने की बात कही। जैसे ही वह घर पहुंचा तो गांव के सतीश पुत्र मुंशीराम, गुलाब पुत्र प्रभु, कमल पुत्र संपत, सुन्दर, रोहित, काला उर्फ सूरज पुत्र गुलाब, भरपाई पत्नी गुलाब, मीरा पत्नी सम्पत उसके घर आए और गाली-गलौच करते हुए लाठी और डंडों से हमला बोल दिया। उसने भागकर घर के अन्दर से दरवाजे को बंद कर जान बचाई। जिसपर शोर शराबा की आवाज सुनकर उसकी भाभी, भाई व भतीजे बाहर निकले तो हमलावरों ने उनके साथ मारपीट कर दी। लेकिन हमलावरों ने उसकी भाभी माया देवी व उसकी पुत्र वधु मनीषा के साथ घर में घुस कर लज्जा भंग करते हुए मारपीट की। जिसमें उसकी भाभी माया देवी और उसकी पुत्र वधु मनीषा गम्भीर रूप से घायल हो गई। उसकी पुत्र वधु मनीषा जो कि गर्भवती है उसके पेट पर भी हमलावरों ने लात घूंसों से वार किया और मारपीट करके भाग गए। जिसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी और किशनगढ़बास के सरकारी अस्पताल में उपचार कराया। जहां पर चिकित्सकों ने घायलों की गम्भीर अवस्था को देखते हुए अलवर रैफर कर दिया। किशनगढ़ बास थाना प्रभारी मोहन सिंह गुर्जर ने बताया कि मामले की शिकायत मिली थी। जिसे दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *