किस्मत को मोडऩे की कहानियां लिखेगा द वॉयस इंडिया किड्स, सीजन 2

 

The Voice India Kids, Season 2

7 साल से 14 साल की उम्र के बच्चे जजेस को सोचने के लिए मजबूर करने और अपनी मधुर आवाज से अपनी किस्मत पलटने के लिए तैयार हैं
हमेश रेशमिया, शान, पैपॉन और पलक मुच्छल इस शो के कोच हैं
द वॉयस इंडिया किड्स, सीजन 2, 11 नवंबर से शुरू हो रहा है और इसका प्रसारण प्रत्येक शनिवार-रविवार को रात 9:00 बजे सिर्फ -ज्ट पर किया जायेगाआवाजें चारों ओर गुंजायमान होने वाली हैं; लोगों की सोच बदलने वाली है; और यह सब उस मंच पर होने वाला है जिसका बहुत समय से इंतजार था। जी हां, ‘द वॉयस इंडिया किड्स’ एक बार फिर लौट आया है। -ज्ट सिंगिंग रियलिटी शो ‘द वॉयस इंडिया किड्स’ के एक और बेजोड़ सीजन के साथ वीकेंड्स पर धमाल मचाने की पूरी तैयारी में है। यह शो गाने में माहिर छोटे बच्चों की किस्मत पलटने का वादा करता है। भारत को इसकी सबसे जादुई और असरदार युवा आवाज प्रदान करने के इस संगीतमय सफर में शामिल हो रहे हैं इस सीजन के चार बेहतरीन कोच। ये कोच हैं – मशहूर गायक और संगीत निर्देशक हिमेश रेशमिया; हमेशा मुस्कान बिखेरने वाले और उम्दा गायक शान; सिंगर-कंपोजर पैपॉन और सबसे युवा कोच पलक मुच्छल। इस शो का निर्माण एस्सेल विजन प्राइवेट लिमिटेड ने किया है। ‘द वॉयस इंडिया किड्स’ सीजन 2, 11 नवंबर 2017 से शुरू हो रहा है और इसका प्रसारण प्रत्येक शनिवार और रविवार को रात 9:00 बजे सिर्फ -ज्ट पर किया जायेगा। वॉयस इंडिया किड्स सीजन 2 में दिव्यांग बच्चों को एक मंच प्रदान करने से लेकर देश के कोने-कोने से आये बच्चों के अनसुने संघर्ष को सम्मानित किया जाता है। इस शो में भारत के पारखी युवा सिंगिंग टैलेंट के असली जुनून को दिखाया जायेगा। 7 से 14 साल की उम्र के प्रतिभागियों को उनकी ‘आवाज’ की ताकत के आधार पर परखा जायेगा। वे कोचेज को अपनी आवाज से सोचने के लिए मजबूर करेंगे। देश भर में नयी प्रतिभाओं को आगे लाने में हिमेश की विशेषज्ञता, पैपॉन का संगीत की जड़ों से जुड़ाव, पलक की इतिहास रचने की शक्ति, और अलग-अलग जोनर में खुद को ढालने में शान के अंदाज के साथ, युवा प्रतिभागियों को अपने टैलेंट को निखारने के लिए और कौशल सीखने का मौका मिलेगा। वे हर गुजरते सप्ताह के साथ और बेहतर होते जायेंगे। इस खूबसूरत अनुभव को और बढ़ाने तथा इन नन्हे-मुन्हों के दोस्त बनने के लिए आ रहे हैं चर्चित अभिनेता जय भानुशाली जोकि इस शो के होस्ट होंगे। उनके को-होस्ट बनेंगे निहार गीते। उनकी बड़े मियां-छोटे मियां की यह जबर्दस्त जोड़ी देखने लायक होगी। इस शो का हिस्सा बनने पर हिमेश रेशमिया ने कहा, ”द वॉयस इंडिया किड्स ऐसा मंच है जोकि संगीत के असली सार को समझता है और कई प्रतिभाशाली बच्चों को उनकी मधुर आवाज सुनाने का अवसर देता है। मुझे खुद बच्चों के साथ रहना अच्छा लगता है और वे मेरी प्रेरणा का सबसे बड़ा स्रोत हैं; उनकी आत्माओं की शुद्धता उनके संगीत में झलकती है। मैं द वॉयस इंडिया किड्स का हिस्सा बनकर रोमांचित हूं और एक रोमांचक नये संगीतमय सफर का बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं।”
शान ने आगे बताया, ”ऐसे शो में वापस लौटना हमेशा खुशी की बात होती है जहां सफलता की सीढ़ी पर चढऩे के लिए आपको अपनी आवाज की ताकत दिखानी पड़ती है। द वॉयस इंडिया मेरे दिल के बहुत करीब है क्योंकि यह ऐसा संगीत एवं आवाज सामने लेकर आता है जो आपकी आत्मा को स्पर्श करती है। इस शो की एनर्जी और टैलेंट का कोई मुकाबला नहीं है और मैं इस साल टैलेंट के एक और शानदार प्रदर्शन को देखने के लिए बेताब हूं।”
अपने डेब्यू के बारे में पैपॉन ने कहा, ”द वॉयस इंडिया एक सबसे अनूठा सिंगिंग रियलिटी शो है जोकि लाखों लोगों को अपना हुनर दिखाने का एक उचित मंच प्रदान करता है। मैं इससे पहले कुछ सिंगिंग रियलिटी शोज का हिस्सा रह चुका हूं और मैंने इनमें परफॉर्म भी किया है लेकिन यह पहली बार है जब मैं जज बनूंगा और मैं द वॉयस इंडिया किड्स का हिस्सा बनकर वाकई में उत्साहित हूं। मुझे भरोसा है कि मैं एक कोच के रूप में संगीत के प्रति अपने ज्ञान को इन युवा सिंगर्स के साथ साझा करूंगा ताकि उन्हें उनके सपनों को पूरा करने में मदद मिले।”
इस शो में अपनी भूमिका के बारे में पलक मुच्छल ने कहा, ”द वॉयस इंडिया जैसे स्टेज को देखकर पता चलता है कि किस तरह दमदार परफॉर्मेंसेस सबसे समझदार लोगों को आकर्षित कर सकती हैं। टीमों का ब्लाइंड सलेक्शन सुनिश्चित करता है कि इसमें किसी भी तरह का बाहरी पक्षपात नहीं है और बस दिल को छू जाने वाली आवाज ही प्रतियोगिता में आगे बढ़ेगी। यह अपने टैलेंट को एक्स्प्लोर कर उसे साबित करने का अवसर है जिसका मैं हमेशा सम्मान करती हूं। हमारे जैसे देश में, जहां हर मोड़ पर प्रतिभायें छिपी हुई हैं, द वॉयस इंडिया जैसे मंच एक व्यक्ति की जिंदगी में बड़ा अंतर ला सकते हैं। एक कोच के रूप में मैं पूरा न्याय करने की उम्मीद करती हूं और भरोसा है कि मैं युवा प्रतिभागियों को सफलता हासिल करने के लिए जरूरी कौशल दे पाउंगी।”
अपने अपारंपरिक दृष्टिकोण के साथ, द वॉयस इंडिया किड्स सीजन 2 किस्मत को मोडऩे की कहानियां दिखाने का वादा करता है। इसमें बच्चों को सर्वश्रेष्ठ कलाकारों द्वारा मेंटर किया जायेगा और वे एक सबसे निष्पक्ष सिंगिंग प्लेटफॉर्म पर परफॉर्म करेंगे।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *