एचसीएल बनी तीसरी सबसे बड़ी IT कंपनी

नई दिल्ली। आइटी कंपनी एचसीएल टेक्नोलॉजीज ने विप्रो से देश की तीसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी का रुतबा छीन लिया है। कंपनी द्वारा चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के लिए घोषित नतीजों के मुताबिक डॉलर के आंकड़ों में उसका राजस्व नौ फीसद बढ़कर 205 करोड़ रहा।विप्रो ने समीक्षाधीन तिमाही में 202 करोड़ डॉलर का राजस्व हासिल किया था।एचसीएल ने कहा कि अप्रैल-जून, 2018 तिमाही में उसका कंसोलिडेटेड शुद्ध लाभ 2,431 करोड़ रुपये रहा, जो पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 2,210 करोड़ रुपये रहा था।कंपनी ने चालू वित्त वर्ष के लिए 1,100 रुपये प्रति इक्विटी शेयर के भाव पर 4,000 करोड़ रुपये तक के शेयर बायबैक प्रोग्राम की भी घोषणा की है।नतीजों की घोषणा के बाद कंपनी के प्रेसिडेंट और सीईओ सी विजयकुमार ने कहा कि कंपनी ने अगली पीढ़ी की इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्विस के दम पर समीक्षाधीन तिमाही में रिकॉर्ड बुकिंग हासिल की।उन्होंने कहा कि कंपनी अगली पीढ़ी की इन्फ्रास्ट्रक्चर सर्विस में निवेश जारी रखेगी। समीक्षाधीन अवधि में कंपनी ने सेवा से संबंधित 27 सौदे किए। उनमें टेलीकॉम, फाइनेंशियल सर्विसेज और रिटेल सेक्टर प्रमुख हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *