ग्राहकों को ई-मेल, वॉट्सऐप से नोटिस भेज रहा एचडीएफसी बैंक

 

नई दिल्ली। एचडीएफसी बैंक ने नियमों का अनुपालन नहीं करने को लेकर ग्राहकों को ई-मेल और वॉट्सऐप के जरिए नोटिस भेजे हैं। बैंक को उम्मीद है कि संचार के नए तरीके अपनाने से मामलों का तेजी से निपटान हो पाएगा। बैंक के एक अधिकारी ने कहा, ‘एचडीएफसी बैंक विभिन्न अदालतों में इस बात पर जोर दे रहा है कि ई-मेल और वॉट्सऐप जैसे संचार के डिजिटल माध्यमों के जरिए नोटिस और समन भेजे जाने चाहिए। इससे मामलों के त्वरित निपटान में मदद मिलेगी।’ अधिकारी ने कहा कि 60 लाख से अधिक चैक बाउंस के मामले देश में लंबित हैं और एचडीएफसी बैंक समन भेजने को लेकर डिजिटल साधनों के उपयोग को लेकर अदालतों से अनुरोध कर रहा है। उसने कहा, ‘हम ई-मेल और वॉट्सऐप पर नोटिस भेजते रहे हैं। कई मामलों में हमने देखा है कि डाक से भेजे जाने पर ग्राहक नोटिस प्राप्त होने से साफ इनकार कर देते हैं।अधिकारी ने कहा कि ‘अक्सर देखा गया है कि लोग घर जल्दी जल्दी बदल लेते हैं, लेकिन उनका ई- मेल पता और मोबाइल नंबर सामान्य तौर पर नहीं बदलता है, इसलिए हमारा मानना है कि संचार के ये नये तरीके प्रभावी हैं।’ अधिकारी ने कहा कि एचडीएफसी बैंक ने अब तक डिजिटल माध्यमों से करीब 250 समन भेजे हैं और उम्मीद है कि कानून के तहत इन मामलों का निपटान तेजी से हो पाएगा। अब तक डिजिटल तरीके से जो नोटिस भेजे गए हैं, वे ज्यादा मामले महाराष्ट्र, गुजरात, पश्चिम बंगाल, ओडि़शा, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश से जुड़े हैं। कुछ मामले दिल्ली, चंडीगढ़, राजस्थान और जम्मू कश्मीर से संबद्ध हैं। चेक बाउंस के मामले निगोशिएबल इंस्ट्रुमेंट ऐक्ट के सेक्शन 138 के तहत आते हैं जिसमें प्रॉमिसरी नोट्स, एक्सचेंज बिल और चेकों से संबंधित मामलों को परिभाषित किया गया है और संबंधित कानून में संशोधन किया गया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *