बिना पहचान होटल-धर्मशाला में पर्यटकों को न ठहराए

 

जयपुर, 3 जुलाई (का.सं.)। सहायक पुलिस आयुक्त वृत माणक चौक उत्तर जयपुर बृजेन्द्र सिंह भाटी ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 धारा 144 के तहत एक आदेश जारी कर वृत क्षेत्र माणक चौक क्षेत्र में किसी भी पर्यटक, मुसाफिर को बिना पहचान, रजिस्टर किये किसी भी होटल, धर्मशाला मुसाफिर खाने में नहीं ठहरावें के निर्देश दिये है। सहायक पुलिस आयुक्त वृत माणक चौक उत्तर बृजेन्द्र सिंह भाटी ने बताया कि क्षेत्र के होटल, धर्मशाला, सराय मुसाफिर खाने, गेस्ट हाउस के मालिक रजिस्टर में समस्त सूचना संधारित करेंगे, ठहरने वाले पर्यटकों व अन्य व्यक्तियों से पहचान कार्ड संबंधित दस्तावेजों की एक प्रति लेंगे, उनके टेलिफोन नम्बर, मोबाईल नम्बर का इन्द्राज करेंगेे, पर्यटक व अन्य व्यक्तियों द्वारा वाहन लाने पर वाहनों के नम्बर आदि का इन्द्राज भी पूर्ण सुनिश्चित करेंगे। सम्पूर्ण उत्तर जयपुर क्षेत्र में स्थित घरों में भी पेईंग गेस्ट रखने का प्रचलन है। ?से गृह स्वामी भी उक्त आदेशों की पालना सुनिश्चित करेंगे और उक्त संधारित रिकॉर्ड दो वर्ष तक सुरक्षित रखेंगे। यह आदेश लोकहित में तत्काल प्रभाव से जारी किया है एवं उन व्यक्तियों जिनके विरूद्ध यह आदेश निर्दिष्ट है पर लागू नहीं होगा। आदेश की अवहेलना करने वाले व्यक्तियों पर धारा 188 भारतीय दण्ड संहिता के तहत दण्डनीय अभियाग चलाया जायेगा। यह आदेश 24 अगस्त 2018 की सांय 6 बजे तक प्रभावी रहेगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *