कोरोना के इलाज पर मिलेगा बीमा कवर, इरडा ने दिया आदेश

मुंबई। साधारण बीमा परिषद ने गुरवार को कहा कि कोरोना वायरस समेत सभी संक्रामक रोग लगभग सभी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के दायरे में आते हैं। परिषद 44 साधारण बीमा कंपनियों का शीर्ष निकाय है। बीमा नियामक इरडा के बयान के बाद साधारण बीमा परिषद ने यह बात कही है। इरडा ने बुधवार को बीमा कंपनियों से कोरोना वायरस को अपनी मौजूदा पॉलिसी में शामिल करने को कहा था। साथ ही यह भी सुनिश्चित करने को कहा था कि कोरोना वायरस से जुड़े दावों का निपटान शीघ्रता से हो। साधारण बीमा परिषद के चेयरमैन ए.वी गिरिजा कुमार ने कहा, लगभग सभी मौजूदा स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी के दायरे में सभी प्रकार के संक्रामक रोग आते हैं। इसमें कोरोना वायरस का भी मामला शामिल है। नियामक इरडा ने नई पॉलिसी बनाने को नहीं कहा बल्कि कोरोना वायरस मामलों के तेजी से निपटान की बात कही है। इस वायरस के कारण दुनिया भर में हजारों लोग प्रभावित हुए हैं। सार्वजनिक क्षेत्र की ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के चेयरमैन कुमार ने कहा कि चालू वित्त वर्ष में उद्योग की वृद्धि दर 17 प्रतिशत रही और प्रीमियम आय दो लाख करोड़ रुपये रहने की उम्मीद है। वर्ष 2024-25 में इसे दोगुना कर चार लाख करोड़ रुपये करने का लक्ष्य है। बता दें दुनिया के 70 देशों तक पांव पसार चुका कोरोना वायरस अपना रूप बदलने की क्षमता के कारण रोकथाम के बावजूद दायरा बढ़ाता जा रहा है। वैज्ञानिकों का दावा है कि यह भी सार्स और मर्स की तरह ऐसा खतरनाक संक्रमण है जिसकी चपेट में आने से करीब 10 फीसदी लोगों की मौत हो जाती है। भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आईवीआरआई) में महामारी विज्ञान विभाग के अध्यक्ष प्रधान वैज्ञानिक डॉ. भोजराज सिंह कहते हैं कि इस संक्रमण में खुद को बदलने की अदभुत क्षमता है। इसका जीनोम छह जीन से बना होता है। उन्होंने बताया कि जब कोई संक्रमण कोशिका में पहुंचता है और उसी जाति का कोई दूसरा संक्रमण वहां पहले से मौजूद हो तो दोनों के जीन मिलकर जानलेवा बन जाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *