भारतीय अर्थव्यवस्था हाथी, जिसने अब दौडऩा शुरू किया: आईएमएफ

नई दिल्ली। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने कहा है कि भारत दुनिया में सबसे तेज रफ्तार से आगे बढऩे वाली अर्थव्यवस्था के रूप में स्थापित होने की राह पर है क्योंकि सुधारों का फायदा अब नजर आने लगा है।आईएमएफ के भारतीय मिशन प्रमुख रानिल सालगादो ने 2.6 खरब डॉलर (करीब 178.5 खरब रुपए) की भारतीय अर्थव्यवस्था को ऐसा हाथी बताया, जिसने अब दौडऩा शुरू कर दिया है। आईएमएफ की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, भारत मार्च 2019 तक 7.3 फीसदी और उसके बाद 7.5 फीसदी की रफ्तार से विकास करेगा। वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्घि में भारत की हिस्सेदारी 15 फीसदी होगी।एक सालाना रिपोर्ट पेश करते हुए सालगादो ने कहा कि परचेजिंग पावर पैरिटी (पीपीपी) के मामले में कुल वैश्विक वृद्घि का 15 फीसदी हिस्सा भारत का होगा, हालांकि ट्रेडिंग चीन के स्तर की नहीं होगी। उन्होंने कहा कि आईएमएफ भारत को ‘लंबे समय तक ग्लोबल ग्रोथ के स्रोत’ के रूप में देखता है।सालगादो ने कहा, ‘भारतीय कार्यबल जनसंख्या में गिरावट आने में अभी तक तीन दशक का समय है। जाहिर है, यह बहुत लंबा समय है। यह एशिया में भारत के लिए अवसर की खिड़की है। कुछ ही एशियाई देशों के पास ऐसा अवसर है। कुल मिलाकर अगले तीन दशक या इससे लंबे समय के लिए भारत वैश्विक अर्थव्यवस्था में वृद्घि का मुख्य स्रात बना रहेगा। अगले तीन दशक में भारत वहीं होगा जहां कुछ समय पहले तक चीन था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *