आईटीसी का स्वच्छता ही सेवा पर कार्यक्रम

नई दिल्ली, 28 सितंबर(एजेन्सी)। आईटीसी लिमिटेड ने ‘स्वच्छता ही सेवाÓ अभियान के अनुरूप कंपनी ने नई दिल्ली और आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु व बिहार समेत अन्य राज्यों में अपने फ्लैगशिप कार्यक्रम आईटीसी-वॉव के तहत जमीनी स्तर पर पहल की योजना बनाई है। जन जागरूकता अभियान के तहत, आईटीसी स्रोत पर ही कचरा पृथक्करण और कचरे के प्रभावी प्रबंधन के लिए जागरूकता फैलाने के लिए नगर निगमों और राज्य प्राधिकारियों के सहयोग से शिक्षा शिविरों, नुक्कड़ नाटक और रैलियों का आयोजन कर रही है। आईटीसी लिमिटेड के कॉरपोरेट मामलों के सीनियर वाइस प्रेसीडेंट अनिल राजपूत ने कहा कि देश में स्वच्छ पर्यावरण बनाने के उद्देश्य के साथ शुरू किये गए भारत सरकार के स्वच्छ भारत अभियान का हिस्सा होने पर हमें गर्व है। स्रोत पृथक्करण और सूखे कचरे की रिसाइक्लिंग पर हमारी जमीनी पहल का लक्ष्य संबद्ध लोगों को आजीविका का अवसर देते हुए एक सांस्कृतिक बदलाव लाने का है। इस साल की शुरुआत में एनडीएमसी ने आईटीसी लिमिटेड को राष्ट्रीय राजधानी में अपनी वेल बींइग आउट ऑफ वेस्ट (वॉव) पहल के क्रियान्वयन के लिए अधिकृत किया था।
एनडीएमसी-आईटीसीजी रोवेस्ट मैनेजमेंट प्रोग्राम कॉरपोरेट-सरकार-एनजीओ और लोगों के बीच अनोखी साझेदारी है, जहां सभी सहभागी कचरे को उसके स्रोत पर ही अलग-अलग करने में सक्रिय रूप से जुड़े हैं, ताकि सूखे व पुन र्चक्रित (रीसाइकिल) हो सकने वाले कचरे को रिसाइकिल किया जा सके और गीले कचरे को खाद में बदलकर किचन गार्डन और किसानों द्वारा उर्वरक के रूप् में इस्तेमाल किया जा सके।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *