जीप कम्पास ट्रेलहॉक अब पूरे भारत में डिलीवरी के लिए तैयार

 

मुंबई, 26 जून (एजेन्सी)। दुनिया भर में स्पोटर्स यूटिलिटी व्हीकल्स (एसयूवी) की सबसे बड़ी निर्माता और पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी एफसीए इंडिया ने घोषणा की है कि वह भारतीय उपभोक्ताओं को तत्काल प्रभाव से भारत में निर्मित जीप0 कम्पास ट्रेलहॉक ऑल-व्हील ड्राइव (एडबल्यूडीडी) एसयूवी की डिलीवरी करने के लिए तैयार हैं। देश भर में ट्रेल रेटेड ट्रेलहॉक का दाम 26.8 लाख रुपये रखा गया है। यह गाड़ी देश भर में एफसीए के सभी 82 ब्रैंड रिटेल टच पॉइंट पर उपलब्ध हैं। अखिल भारतीय स्तर पर जीप कम्पास की रेंज 15.6 लाख से शुरू होती है। एफसीए इंडिया के प्रेसिडेंट और प्रबंध निदेशक केविन फ्लेन ने ट्रेलहॉक की कीमतों की घोषणा पर कहा, ”हम ट्रेलहॉक में जीप के काफी फीचर्स ऑफर कर रहे हैं। हमारा मानना है कि भारतीय उपभोक्ता इसकी तारीफ करेंगे और इसका पूरा लुत्फ उठाएंगे। हमारी ट्रेल रेटेड ऑल व्हील ड्राइव एसयूवी में वह सभी फीचर्स हैं, जो एसयूवी जीप में होने चाहिए। यह एसयूवी शहर की सड़कों पर और एडवेंचर से भरपूर ड्राइविंग के सभी इंटेलिजेंट सहायक उपकरणों की उपभोक्ताओं की चाहत को पूरा करती है। इस एसयूवी में सवारियों की सुरक्षा को प्राथमिकता दी गई है। यह एसयूवी खरीद कर उपभोक्ता उस विरासत का हिस्सा बनेंगे, जिस पर वैश्विक जीप कम्युनिटी को गर्व है। ट्रेलहॉक में कई नए उपकरण की पेशकश की गई है।

इंजन स्टॉप या स्टार्ट : यह इंटेलिजेंट सिस्टम ड्राइवर की गाड़ी की स्पीड बढ़ाने की आदतों को पहचान लेता है और इसके साथ ही ट्रैफिक सिस्टम के अनुकूल है। यह अलग-अलग ट्रैफिक के हालात में 6 फीसदी ईंधन बचाने में सक्षम होता है। एडवांस्ड

क्रूज कंट्रोल :क्रूज कंट्रोल वह सिस्टम है, जो गाड़ी की स्पीड को अपने आप कंट्रोल कर लेता है। यह किसी निश्चित स्पीड पर अपने आप लॉक हो जाता है, जिससे ड्राइवर पैडल और क्रूज से सुविधाजनक ढंग से पैर हटा सकता है।

बिल्ट इन नैविगेशन : यह आपकी ड्राइविंग सीट के सामने 8.4 इंच यू कनेक्ट स्क्रीन पर फिंगर टिप्स पर मौजूद रहता है। इसके साथ ही मेन क्लस्टर पर दिशाएं भी उपलब्ध रहती हैं। हिल डिसेंट कंट्रोल (एचडीसी) : ऊबड़-खाबड़ पहाड़ी रास्तों पर चढ़ते हुए एसयूवी को किक के रूप में सपोर्ट मिलता है। इस स्थिति में वाहन में अपने आप ब्रेक लग जाता है। 3 किमी प्रति घंटे की स्पीड कायम रहती है।

जीप एक्टिव ड्राइव 4&4 लो : ड्राइव ट्रेन में अतिरिक्त अनुपात और अतिरिक्त खिंचाव की इजाजत मिलती है। इससे यह ऊबड़-खाबड़ सड़कों पर भी शान से चल सकती है। ‘

रॉकमोड टेरेन सिलेक्शन : रॉक मोड के अलावा इस एसयूवी में ऑटो, स्नो, मड और सैंड मोड भी है, जिससे गाड़ी की खराब सड़कों पर चलने की क्षमता में निखार आता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *