जॉर्डन की हत्या के समय घटनास्थल पर था जगत

पुलिस ने चार अन्य को भी गिरफ्तार किया, हथियार बरामद

श्रीगंगानगर, 10 सितम्बर (का.सं.)। श्रीगंगानगर में विगत 22 मई को जवाहरनगर नगर के मीरा मार्ग पर स्थिति मेटालिका जिम में सुबह जब लॉरेंस बिश्नोई गैंग के गुर्गे अंकित भादू, संपत नेहरा व एक अन्य वर्कआउट हॉल में जाकर हिस्ट्रीशीटर जॉर्डन उर्फ विनोद चौधरी पर अंधाधुंध गोलियां बरसा रहे थे, उस समय जिम के बाहर शातिर अपराधी जगत सिंह उर्फ कालू उर्फ बंटी भी दो अन्य बदमाशों के साथ मौजूद था। एक कार में उस दिन सुबह 5.15 बजे छह बदमाश विनोद चौधरी की हत्या करने के लिए आए थे। तीन जिम के अंदर चले गए और तीन बाहर कार के पास खड़े रहे। कार के पास मौजूद रहा जगत उर्फ कालू हनुमानगढ़ जिले में नोहर तहसील क्षेत्र के गांव में मेघाना का निवासी है, जो कि पिछले वर्ष जून माह में चुरू जिले में मालासर गांव में पुलिस ने जिस श्रवण सिंह के घर में कुख्यात गैंगस्टर आनंदपाल सिंह को एनकाउंटर में मार गिराया था, उसी श्रवण सिंह का भांजा है। श्रीगंगानगर से एक सब इंस्पेक्टर सुरेश कस्वां के नेतृत्व में पुलिस की एक स्पेशल टीम ने 15 दिनों से नोहर और इसके साथ लगते चुरू जिले के साहवा इलाके में डेरा डाला हुआ था। इस टीम ने कल शाम को साहवा में जलदाय विभाग के पीछे गौरीशंकर सैनी के मकान में जगत सिंह के अलावा चार अन्य जनों को काबू कर लिया। इनमें दो कृषि महाविद्यालय के छात्र हैं, जिनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं है, लेकिन जगत के साथ पकड़े गए दो अन्य जनों का अपराधिक रिकॉर्ड सामने आ रहा है।
श्रीगंगानगर के पुलिस अधीक्षक योगेश यादव ने सोमवार को बताया कि सुरेश कस्वां की अगुवाई में भेजी गई टीम ने कल शाम को साहवा में वार्ड नंबर 18 में गौरीशंकर सैनी के मकान से जगत सिंह पुत्र कुलदीप सिंह राजपूत निवासी में मेघाना, जसविंदर(21)पुत्र धर्मपाल जाट निवासी ललानिया, बलराम(32) पुत्र राजाराम जाट निवासी परलिका विक्रम(18) पुत्र रामकुमार देहडू, नरेश कुमार(18) पुत्र कृष्ण कुमार जाट निवासी सोनड़ी जिला हनुमानगढ़ को गिरफ्तार किया है। इनके पास से पॉइंट 9 एमएम का एक पिस्टल मैगजीन सहित पांच कारतूस, पॉइंट 30 एम एम का एक पिस्टल कारतूस, एक मैगजीन जिंदा कारतूस सहित, एक देसी कट्टा 315 बोर व तीन जीवित कारतूस, एक लोहे का कटर व पाइप आदि सामान बरामद हुआ है। उन्होंने बताया कि यह पांच जने साहवा में कोई डकैती डालने की तैयारी में थे। सब इंस्पेक्टर सुरेश कस्वां की टीम ने इन पांच जनों को कोई बड़ी वारदात करने से पहले काबू कर लिया। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जॉर्डन हत्याकांड में वांछित जगत को जल्दी ही प्रोडक्शन वारंट पर श्रीगंगानगर जाएगा। स्थानीय जवान नगर थाना पुलिस द्वारा उससे पूछताछ की जाएगी। बता दें कि जॉर्डन हत्याकांड में लॉरेंस बिश्नोई गैंग का शार्प शूटर संपत नेहरा व चार-पांच अन्य बदमाश गिरफ्तार किए जा चुके हैं। लॉरेंस बिश्नोई का एक खास गुर्गा अंकित भादू जोकि पंजाब के समीपवर्ती शेरेवाला गांव का निवासी है, पकड़ में नहीं आ रहा। अंकित भादू ने श्रीगंगानगर और सादुलशहर में तीनों व्यापारियों को लाखों रुपए की फिरौती देने की धमकियां दे रखी हैं। वह विगत 12 अगस्त को सादुलशहर कस्बे के पास ही हरियाणा के पंचकूला से आई हुई पुलिस टीम के साथ एनकाउंटर होने के बावजूद बच कर भाग गया था। जगत सिंह हनुमानगढ़ जिले में नोहर थाना क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर बताया जा रहा है। इस बीच साहवा से हासिल जानकारी के अनुसार कल शाम इन पांचों जनों को पकड़े जाने की कार्रवाई में स्थानीय थाना प्रभारी सुभाष विश्नोई के अलावा सरदारशहर थाना के प्रभारी इंस्पेक्टर रणवीर सिंह साईं भी शामिल थे। साहवा के थाना प्रभारी सुभाष विश्नोई ने बताया कि विक्रम और नरेश कुमार किराए का मकान लेकर कृषि महाविद्यालय में पढ़ाई कर रहे हैं।इनके यहां जगत सिंह और उसके दो साथी बदमाशों ने काफी समय से शरण ले रखी थी। जगत सिंह ने अपने 3-4 साथियों के साथ मिलकर 15 दिन पहले सरदारशहर थाना इलाके में पिस्तौल की नोक पर एक आई 10 गाड़ी को लूटा था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *