उच्च शिक्षा मंत्री ने राजसमन्द जिले में ग्राम्यांचलों का सघन दौरा किया

जयपुर, 3 अप्रैल (का.सं.)। उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने कहा है कि सरकार के लिए गांवों और गरीबों का उत्थान सर्वोच्च प्राथमिकता पर है और इसी का नतीजा है कि आज राजस्थान में ग्रामीण विकास नई ऊँचाइयों को छूता हुआ आम ग्रामीणों को सही अर्थोंं में विकास का अहसास करा रहा है। उच्च शिक्षा मंत्री ने यह बात मंगलवार को राजसमन्द विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों में ग्राम्य विकास कार्यों के लोकार्पण कार्यक्रमों में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही। उच्च शिक्षा मंत्री ने महासतियों की मादड़ी, खेमाखेड़ा, घाटी, रूपाखेड़ा, रावों का खेड़ा, डुलियाणा, डुमखेड़ा आदि गांवों का दौरा किया और विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण किया। उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने 31 मार्च से शुरू हुए तथा 10 अप्रेल तक राजसमन्द विधानसभा क्षेत्र में चलने वाले अपने बहुद्देशीय ग्राम्य सम्पर्क अभियान के चौथे दिन मंगलवार को महासतियों की मादड़ी ग्राम पंचायत क्षेत्र का सघन दौरा किया। माहेश्वरी ने विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण किया, जन सम्पर्क करते हुए ग्रामीण क्षेत्रों में अब तक कराए गए विकास कार्यों का फीडबेक लिया, विकास की जरूरतों एवं प्राथमिकताओं के बारे में ग्रामीणों से चर्चा की तथा गांववासियों की विभिन्न समस्याओं को सुना एवं इनके समाधान की कार्यवाही की।उच्च शिक्षा मंत्री ने 22 लाख रुपये की लागत से खीमाखेड़ा में पाईपलाईन व टंकी निर्माण व सीसी सड़क कार्य, घाटी गांव की भील बस्ती में 4 लाख रुपये की लागत से सीसी सड़क व 3 लाख रुपये की लागत से निर्मित पेयजल टंकी, डूमखेड़ा में 7 लाख रुपये की लागत से चामुण्डा माता मन्दिर के पास सामुदायिक भवन विस्तार कार्य तथा हनुमान मन्दिर के पास 9 लाख रुपये की लागत से सामुदायिक भवन विस्तार व 1.50 लाख रुपये की लागत से बने यात्री प्रतीक्षालय, मामादेव के पास एक लाख रुपये की लागत से बने यात्री प्रतीक्षालय, रावों का खेड़ा में 60 लाख रुपये की लागत से बने गौरव पथ तथा 6 लाख रुपये की लागत से पेयजल टंकी, पाईपलाईन विस्तार कार्य, 2 लाख रुपये की लागत से सामुदायिक भवन निर्माण, जाट बस्ती में 5 लाख रुपये की लागत से सामुदायिक भवन विस्तार कार्य एवं सीसी सड़क, कालबेलिया बस्ती में 7 लाख रुपये की लागत से पेयजल टंकी तथा पाईपलाईन विस्तार कार्यों, महासतियों की मादड़ी के श्री चारभुजा मन्दिर के पास 4 लाख रुपये की लागत से सामुदायिक भवन विस्तार कार्य, खटामला में भैरूजी के मन्दिर पर दो लाख रुपये की लागत से बने यात्री प्रतीक्षालय का लोकार्पण किया। उच्च शिक्षा मंत्री ने रूपाखेड़ा में मगरी वाले भैरूजी मन्दिर के पास 2 लाख रुपये की लागत से बने यात्री प्रतीक्षालय, ढाणी वाले भैरूजी मन्दिर के पास दो लाख रुपये की लागत से निर्मित यात्री प्रतीक्षालय, भील बस्ती के पास दो लाख रुपये की लागत से निर्मित वाचनालय और भील बस्ती से श्मशान घाट तक 4 लाख की लागत से बनी सी.सी. सड़क का लोकार्पण भी किया। माहेश्वरी ने खराडिय़ों की नाड़ी भील बस्ती में दो लाख रुपये की लागत से पाईपलाईन विस्तार कार्य, ढुलियाणा में उपला देवरा के पास दो लाख रुपये की लागत से निर्मित यात्री प्रतीक्षालय, कालका माता मन्दिर के पास तीन लाख रुपये की लागत से निर्मित वाचनालय और पुराना विद्यालय से आंगनवाड़ी तक 5 लाख रुपये की लागत से बनी सी.सी. सड़क का लोकार्पण किया। उच्च शिक्षा मंत्री ने किसानों के लिए कर्ज माफी सहित बिजली सुविधाओं से संबंधित रियायतों व योजनाओं, महिलाओं के कल्याण, गांवों तथा गरीबों के भले के लिए सरकार के प्रयासों, बजट में की गई घोषणाओं आदि के बारे में विस्तार से ग्रामीणों को समझाया और कहा कि सबको साथ लेकर सबका विकास करने की सोच के साथ चल रही सरकार ने हर वर्ग और हर क्षेत्र को वांछित विकास से रूबरू कराया है। उन्होंने ग्रामीणों से कहा कि वे विकास के अच्छे कार्य करने वालों को हरसंभव सहयोग देते हुए प्रोत्साहित करें और आगे लाएं ताकि ग्रामीण विकास की यह गति निरन्तर बनी रहे और राजसमन्द सहित राजस्थान प्रदेश विकास के हर क्षेत्र में देश भर में अग्रणी पहचान स्थापित करने का गौरव दिलाने में भागीदारी का इतिहास रच सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *