स्कूल के बाहर लाठी चार्ज की घटना दुर्भाग्यपूर्ण : मनोहरलाल खट्टर

गुरुग्राम, 11 सितम्बर (एजेंसी)। सोहना रोड सदर पुलिस स्टेशन के थाना प्रभारी को यहां रयान इंटरनेशनल स्कूल के बाहर प्रदर्शन कर रहे अभिभावकों और इसकी रिपोर्टिंग करने आए पत्रकारों पर लाठी चार्ज के सिलसिले में निलंबित कर दिया गया है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने कल स्कूल के बाहर लाठी चार्ज की घटना को ‘दुर्भाग्यपूर्णÓ करार दिया था। विरोध प्रदर्शन की रिपोर्टिंग कर रहे कुछ मीडियाकर्मी भी इस लाठी चार्ज के दौरान घायल हो गए थे। मुख्यमंत्री ने संबंधित पुलिसकर्मी के खिलाफ कार्रवाई के आदेश दिए थे। स्कूल के सात वर्षीय छात्र की हत्या की सीबीआई से जांच कराने की मांग करते हुए सैकड़ों अभिभावकों ने कल स्कूल के बाहर विरोध प्रदर्शन किया था। करीब 50 से ज्यादा प्रदर्शनकारी और क्षेत्रीय एवं राष्ट्रीय मीडिया के नौ पत्राकार पुलिस द्वारा किए गए लाठी चार्ज की घटना में घायल हो गए थे। इस घटना के दौरान कुछ मीडियाकर्मियों के उपकरणों को भी क्षति पहुंची थी। पुलिस उपायुक्त और गुरुग्राम पुलिस के प्रमुख जनसंपर्क अधिकारी मनीष सेहगल ने कहा, स्कूल के बाहर रविवार की सुबह को गुस्साई भीड़ और पत्रकारों पर लाठी चार्ज कराने के लिए गुरुग्राम पुलिस आयुक्त संदीप खैरवार ने सदर सोहना प्रभारी अरुण कुमार को लापरवाही के आरोप में निलंबित कर दिया है। मुख्यमंत्री ने इस घटना की निंदा करते हुए इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया था। उन्होंने कहा, मैंने हमेशा ही मीडिया के अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का समर्थन किया है। लाठीचार्ज करना दुर्भाग्यपूर्ण है और इसे नहीं होना चाहिए था। मैं इसके लिए जिम्मेदार पुलिसकर्मी पर कार्रवाई करने का आदेश दे रहा हूं और उन्हें सजा मिलनी चाहिए। खट्टर ने कहा कि पुलिस कार्रवाई के दौरान घायल हुए मीडियाकर्मियों के इलाज का खर्च सरकार वहन करेगी। उन्होंने बेहतर इलाज का भी आश्वासन दिया। उन्होंने कहा, सभी घायल पत्रकारों को इलाज मुहैया कराया जाएगा और सभी नुकसान का मुआवजा दिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *