भारतीय फिल्म उद्योग को प्रभावित कर रहा है नेटफ्लिक्स- माधुरी

आलोचक नेटफ्लिक्स की भारतीय सामग्री की इसके प्रतिद्वंद्वियों की तुलना में मुख्यधारा के जैसे नहीं होने के कारण अकसर आलोचना करते हैं, लेकिन अभिनेत्री माधुरी दीक्षित का मानना है कि इसने भारतीय फिल्म उद्योग को बाधित किया है। सी व्हाट नेक्सट : एशिया समारोह के दौरान यहां एक पैनल चर्चा में माधुरी ने कहा, ”मेरा मानना है कि स्टार हमेशा स्टार होते हैं लेकिन यह एक नया और बड़ा बदलाव है जहां आप व्यवस्था को बाधित करते हैं और नेटफ्लिक्स यही कर रहा है।51 वर्षीय अभिनेत्री ने कहा कि नेटफ्लिक्स अपने उपयोगकर्ताओं को घर बैठे विकल्प मुहैया करा रहा है। अभिनेत्री ने अपनी मराठी फिल्म ‘बकेट लिस्ट और इस पर हॉलीवुड में बनी फिल्म नेमसेक का हवाला दिया। नेमसेक में जैक निकोलसन और मॉर्गन फ्रीमैन मुख्य भूमिका में थे। उन्होंने कहा, ”बात यह है कि लोग जब चाहें, जो चाहे वो चुन सकते हैं। मैने हाल में ‘बकेट लिस्ट की और जब मैने इसे टाइप किया तो उसने मुझे जैक निकोलसन और फ्रीमैन की बकेट लिस्ट का विकल्प प्रस्तुत किया। तो आपके पास विकल्प, शैलियों और जो भी आपको पसंद है, यहां तक कि सुझाव भी उपस्थित हैं। यह एक विघटनकारी है। मुझे लगता है कि यह लंबा चलेगा। सिनेमा हमेशा वहां रहेगा लेकिन नेटफ्लिक्स आपको स्वतंत्रता देता है कि आप जो चाहें बना सकते हैं। माधुरी जल्द ही मराठी में निर्मित अपनी ’15 अगस्त नामक फिल्म से नेटफ्लिक्स के साथ पर्दापण करेंगी। व्यंग्यात्मक फिल्म में मुंबई के एक चॉल की कहानी है जो मध्य वर्गीय भारतीय के संघर्ष पर आधारित है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *