चिकित्सा मंत्री ने किया जयपुरिया में एम आर आई का उदघाटन  

                            
जयपुर, 21 सितंबर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री कालीचरण सराफ ने गुरुवार को ई.एच.सी.सी. के सहयोग से जयपुरिया अस्पताल में स्थापित की गयी एम आर आईं मशीन का शुभारंभ किया। आगामी 6 माह में यहाँ कैथ लेब भी प्रारम्भ कर दी जायेगी।श्री सराफ ने शुभारंभ के अवसर पर कहा कि इस मशीन का शुभारंभ होने से आसपास की करीब 3 लाख की आबादी को बेहतर चिकित्सीय जांच एवं उपचार सेवाओं का लाभ मिलेगा। उन्हीने बताया कि प्रथम चरण में जयपुरिया अस्प्ताल में सीटी स्कैन, 2-डी ईको, सीटीएमटी व हॉल्टर मॉनिटरिंग चिकित्सीय जांच सेवाएं शुरू की जा चुकी हैं। तीसरे चरण में आगामी 6 माह में कैथलैब भी शुरु करने की योजना है।
श्री सराफ ने बताया कि जयपुरिया अस्प्ताल में अगस्त माह में 55 हजार 429 रोगियों की ओपीडी में एवं 2 हजार 249 का आईपीडी में उपचार किया गया। उन्होने बताया कि एसएमएस की दरों पर ही यहाँ जांच सेवाएं उपलब्ध रहेंगी। एसएमएस चिकित्सालय में निःशुल्क उपलब्ध अब जयपुरिया चिकित्सालय में भी निशुल्क दी जायेंगी। एसएमएस चिकित्सालय पर रोगी दबाव कम करने के लिए शहर में जयपुरिया अस्प्ताल, कांवटिया अस्पताल, सेठी कॉलोनी का सैटेलाइट अस्पताल का विकास किया जा रहा है।
चिकित्सा मंत्री ने आगामी 3 माह में 2 करोड़ की लागत से स्वाईन फ्लू लैेब की स्थापना करने की जानकारी दी एवं इसके लिए 1 करोड़ की राशि आरयूएचएस द्वारा व 1 करोड़ की राशि सांसद कोष से  श्री रामचरण बोहरा द्वारा दी जायेगी। समारोह की अध्यक्षता करते हुए राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष श्रीमती सुमन शर्मा ने विश्वास व्यक्त किया कि जयपुरिया अस्प्ताल में सुविधाओं के विस्तार से एसएमएस पर पड़ने वाले दबाव में कमी आयेगी। उन्होंने कहा कि राज्य चिकित्सा सुविधाओं की दृष्टि से निरन्तर अग्रणी बनता जा रहा है।
सांसद श्री रामचरण बोहरा ने जयपुरिया अस्प्ताल के विकास के लिए सांसद कोष से पर्याप्त राशि देने की घोषणा की। राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्व विद्यालय के कुलपति डॉ. राजाबाबू पंवार, ईएचसीसी की निदेशक डा. मंजु शर्मा व जयपुरिया अधीक्षक डॉ. रेखासिह ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में डॉ. सुधीर कक्कड़ ने अतिथियों व आगंतुकों का धन्यवाद ज्ञापित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *