मर्सिडीज-बेंज़ ने अपकमिंग जीएलई एसयूवी के डीज़ल इंजन से पर्दा उठाया

नई दिल्ली। मर्सिडीज-बेंज़ ने चौथी जनरेशन जीएलई एसयूवी के लिए दो नए डीज़ल इंजनों को पेश कर दिया हैं। कंपनी ने यूरोप में इसकी बुकिंग भी शुरू कर दी है। हालांकि इसकी डिलीवरी मार्च 2019 में शुरू होगी। हम उम्मीद करते हैं कि 2019 में डीज़ल जीएलई एसयूवी को भारत में भी उतारा जाएगा। इसे भारत स्टेज-6 उत्सर्जन मानकों के अनुरूप ट्यून किया जाएगा।जीएलई के लिए कंपनी ने क्रमश: 2.0 लीटर, 4-सिलेंडर और 3.0 लीटर, 6-सिलेंडर डीज़ल इंजन की पेशकश की है। 2.0 लीटर इंजन यूनिट जीएलई300डी को पॉवर देगा। भारत में उपलब्ध सी-क्लास 300डी में भी यही इंजन मिलता है। सी 300 डी में इस इंजन को 9-स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स के साथ जोड़ा गया है। यह इंजन 245 पीएस की पावर जनरेट करता है। जीएलई का 3.0 लीटर, 6-सिलेंडर डीज़ल इंजन जीएलई 350 डी और जीएलई 400 डी में उपलब्ध होगा। दोनों कारों के लिए यह इंजन अलग पावर ट्यूनिंग के साथ आएगा। जीएलई 350 डी और जीएलई 400 डी में यह इंजन क्रमश: 272 पीएस और 330 पीएस की पावर जनरेट करेगा। भारत में उपलब्ध एस-क्लास 350 डी में भी यहीं इंजन दिया गया है। एस 350 डी के भारतीय वजऱ्न में यह इंजन 286 पीएस की पावर देता है। जीएलई की इस चौथी जनरेशन को कंपनी ने सितंबर 2018 में दुनिया के सामने किया था। इसे पहले एम-क्लास के नाम से जाना जाता था। न्यू-जनरेशन जीएलई 7-सीट विकल्प में भी उपलब्ध है, जिससे इसका सीधा मुकाबला ऑडी क्यू7 से है। इसके अलावा बीएमडब्ल्यू एक्स5 भी नई-जनरेशन जीएलई के प्रतिद्वंद्वी के रूप में शामिल है। भारत में तीसरी-जनरेशन जीएलई दोनों पेट्रोल और डीज़ल इंजनों में उपलब्ध हैं। हम उम्मीद करते हैं कि मर्सिडीज-बेंज़ भारत में भी नए मॉडल के साथ दोनों ईंधन विकल्पों की पेशकश करेगी। वर्तमान में जीएलई की शुरुआती कीमत 67 लाख रुपये (एक्स-शोरूम दिल्ली) है। नई जीएलई की शुरुआती कीमत 70 लाख रुपये होने की उम्मीद है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *