मैं उस बच्चे की तरह हूं जो एक कैंडी से कभी संतुष्ट नहीं होता है अदिति राव हैदरी

अदिति राव हैदरी सपने देखने और उनमें विश्वास करने में विश्वास करती हैं। अपने सात साल के करियर में उन्होंने एक लंबा सफर तय कर लिया है। सपोर्टिंग कैरेक्टर्स निभाने से लेकर फिल्मों में अहम रोल करने तक उन्होंने खुद को निखारा है। वह सुधीर मिश्रा की फिल्म दास देव में मॉडर्न चंद्रमुखी का किरदार निभा रही हैं। इस खास बातचीत में उन्होंने अपने अनुभवों के बारे में बताया-
प्रमोशन्स जोर-शोर से चल रहे थे लेकिन रिलीज के कुछ दिन पहले ही ‘दास देव’ टल गई थी। इस बात ने आपको एक ऐक्टर के तौर पर कितना प्रभावित किया?
हमने फिल्म की शूटिंग दो साल पहले कर ली थी। मैं सुधीर के लिए इस फिल्म के रिलीज का इंतजार कर रही थी। सुधीर शानदार फिल्में बनाते हैं और वह इन्हें बार-बार नहीं बनाते। ‘दास देव’ की रिलीज कई बार टली। हर बार जब यह रिलीज होने वाली होती थी, यह टल जाती थी। हर बार इसके अलग-अलग कारण होते थे। इस बार इसे टालने का कारण यह है कि 20 अप्रैल को पर्दे पर कई फिल्में आ रही थीं। इसके देरी से ज्यादा मुझे इस बात से फर्क पड़ रहा है कि इसमें कई लोगों की मेहनत लगी है और उनकी मेहनत पर्दे पर आने में इतना समय ले रही है। ऐक्टर्स के लिए यह निराशाजनक होता है लेकिन डायरेक्टर और प्रड्यूसर के लिए यह और भी बुरा होता है। ऐक्टर्स तो दूसरे प्रॉजेक्ट्स में लग जाते हैं लेकिन डायरेक्टर्स-प्रड्यूसर्स ऐसा नहीं कर सकते।
इस कहानी को पहले भी कई फिल्म मेकर्स बना चुके हैं। इनमें कुछ नया नहीं होता है। इसमें चंद्रमुखी का किरदार किस तरह से अलग है?
इस कैरेटक्टर का कोर आइडिया वही है। बस इसमें वह हर समय अपने प्यार को लेकर रोती नहीं रहती है। उसे पता है कि जिस आदमी से वह प्यार करती है वह उसे प्यार नहीं करेगा। इस फिल्म की कहानी को चंद्रमुखी के नजरिए से दिखाया गया है।
क्या चांदनी का किरदार नेगेटिव है जो अपना काम बनाने के लिए अपनी सेक्शुऐलिटी का इस्तेमाल करती है?
यह नेगेटिव नहीं है लेकिन वह एक ऐसी लड़की है जिसे निजी तौर पर हर कोई जानता है लेकिन सार्वजिक रूप से कोई स्वीकार नहीं करना चाहता है। वह यहां नई है। वह एक रूक्च्र ड्रॉपआउट है जो पॉलिटिक्स में फंस जाती है। सुधीर ने इस कैरेक्टर को काफी रियलिस्टिक और बेबाक रखा है। वह लोगों के डर्टी सीक्रेट्स जानती है।
आपने इस फिल्म में दो साल पहले काम किया था। इसके बाद आप कई फिल्मों में अलग-अलग कैरेक्टर निभा चुकी हैं। क्या आपको लगता है कि अगर आपको यह फिल्म अब दी जाती तो आप इस किरदार को बेहतर कर पातीं?
जब आप किसी फिल्म के सेट पर पहुंचते हैं तो वह आपके लिए नया होता है। एक आर्टिस्ट के तौर पर हर किरदार नया होता है। मेरे लिए यह कहना ठीक नहीं होगा कि अगर मैंने आज यह किरदार किया होता तो बेहतर करती। मैं सेट पर बिलकुल खाली होकर पहुंचती हूं और खुद को डायरेक्टर के नजरिए को सरेंडर कर देती हूं। मैं इसी तरह काम करती हूं।
आपने इस फिल्म में पॉवर ब्रोकर का काम किया है जो कई गुप्स और लॉबी के साथ काम करती है। अगर बिजनस की बात करें तो आपको लगता है कि फिल्मों में भी पॉवर के लिए स्ट्रगल है?
पॉवर के लिए हर जगह स्ट्रगल है लेकिन इसे आपको खुद पर हावी नहीं होने देना होता है। अगर यह आपकी प्राथमिकता बन जाएगी तो आप अपनी वास्तविकता खो देते हैं। मैं इस इंडस्ट्री में पैदा नहीं हुई हूं तो कई चीजें हैं जो मुझे समझ में नहीं आती हैं। लेकिन मुझे यह नहीं पता कि वो पॉवर गेम है या कुछ और। हां कई बार मुझे गिराने की कोशिश की गई। यह शिकायत नहीं बस एक तथ्य है। मेरी मां कहती है कि तुम्हे हमेशा अच्छा करना है और पॉजिटिव सोचना है।
एक समय में आप सिर्फ हिन्दी फिल्मों में काम कर रही थीं। अब आप अलग-अलग भाषाओं में मेन कैरेक्टर निभा रही हैं? ऐसा क्या था जो आपने साउथ फिल्म इंडस्ट्री को चुना?
यह एक ऐक्टर के तौर पर मेरा लालच है। मैं उस बच्चे की तरह हूं जो दुकान से एक कैंडी लेकर कभी संतुष्ट नहीं होता। मैं वहां तक पहुंचना चाहती हूं जहां वे लोग मुझे मेरे काम से जानें जिनकी मैं इज्जत करती हूं। इन फिल्ममेकर्स के साथ मैं काम करना चाहती थी। फिल्में भाषा से नहीं जानी जातीं बल्कि इमोशन्स से जानी जाती हैं। भाषा को चुनना आर्टिस्ट की चॉइस हो सकती है लेकिन उसे सीखने का अनुभव बहुत कीमती होता है।
आपके पास करने के लिए इतना कुछ है। आप अपने लिए, प्यार के लिए और परिवार के लिए समय कैसे निकालती हैं?
मैं हर चीज के लिए समय निकाल सकती हूं। पिछले 18 महीनों से मैं काफी व्यस्त हूं और मैं इसे एन्जॉय कर रही हूं। मुझे पता है कि वह मौका भी आएगा जब काम के अलावा भी मेरी जिंदगी होगी, एक साथी होगा और परिवार के लिए भी समय होगा। वह भी जरूरी है। लेकिन अभी मैं इन सबमें नहीं पडऩा चाहती। हर चीज का सही समय होता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *